आज से एटीएम-पीएफ-एलपीजी समेत कई नियमों में बदलाव

आज से एटीएम-पीएफ-एलपीजी समेत कई नियमों में बदलाव

नई दिल्ली (महामीडिया) देश में कोरोनावायरस का कहर जारी है. इसी बीच आज यानी 1 जुलाई से कई सारे नियमों में बदलाव हो रहा है. इनका असर सीधा आपकी जेब पर पड़ने वाला है. इस सिलसिले में एटीएम से जुड़े बदलाव हुए हैं और मिनिमम अकाउंट बैलेंस का नियम भी बदल दिया गया है. 
एटीएम से पैसे निकालने को लेकर बदला नियम
मार्च में लॉकडाउन लागू हुआ था तो वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया था कि अगले तीन महीने तक किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा. ये तीन महीने का वक्त 30 जून को खत्म हो गया और आज से पुराना नियम लागू कर दिया गया है.
स्टेट बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, मेट्रो शहरों में एटीएम से 8 बार कैश निकालने की अनुमति है. इसमें आप 5 बार एसबीआई के बैंक अकाउंट और 3 बार दूसरे बैंक के एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं. अगर आप एक महीने में 8 बार से ज्यादा कैश निकालते हैं तो हर ट्रांजैक्शन पर 20 रुपए और जीएसटी चुकाना पड़ सकता है.
मिनिमम बैलेंस से जुड़े नियम में बदलाव
निर्मला सीतारमण ने कहा था कि किसी को भी 30 जून तक न्यूनतम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं है. यह मियाद भी खत्म हो गई है.
मालूम हो कि अधिकतर बैंक अपने ग्राहकों से उनके खाते में कुछ न्यूनतम बैलेंस रखवाते हैं और वैसा नहीं करने पर ग्राहकों को पेनाल्टी देनी पड़ती है, यानी अब 1 जुलाई से फिर से पुरानी व्यवस्था लागू हो गई है.
म्यूचुअल फंड पर लगेगा स्टांप ड्यूटी
1 जुलाई से कोई म्यूचुअल फंड खरीदने पर आपको उसपर स्टांप ड्यूटी देनी होगी. अगर सिस्टमेटिक इनवेस्टमेंट प्लान और सिस्टमेटिक ट्रांसफर प्लान खरीदते हैं तो भी आपको स्टांप ड्यूटी चुकानी पड़ेगी.
यह ड्यूटी हर तरह के म्यूचुअल फंड पर देनी होगी, फिर चाहे आप डेट म्यूचुअल फंड खरीदे या इक्विटी म्यूचुअल फंड. इस स्टांप ड्यूटी का सबसे ज्यादा असर डेट फंड्स पर देखने को मिलेगा जो आम तौर पर छोटी अवधि के लिए होती है.
पीएफ का पैसा निकालने के नियम में बदलाव
कोरोनावायरस लॉकडाउन में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पीएफ का पैसा निकालने की अनुमति दी थी. इसके लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 जून थी.
सीतारमण ने कहा था कि कुल जमा राशि का 75 फीसदी या बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ते का तीन गुना, दोनों में जो कम हो वह निकाला जा सकता था. लेकिन 1 जुलाई से इसकी सुविधा बंद कर दी गई है.
अटल पेंशन योजना से जुड़े नियम में बदलाव
अटल पेंशन योजना के लिए मंथली ऑटो डेबिट शुरू हो गया है. ऑटो डेबिट की प्रक्रिया को 30 जून तक के लिए रोका गया था. सर्विस टैक्स और सेंट्रल एक्साइज से जुड़े पुराने विवादों को सुलझाने के लिए घोषित सबका विश्‍वास योजना की अंतिम तारीख भी 30 जून ही रखी गई थी.
 

सम्बंधित ख़बरें