डाबर एवरेडी इंडस्ट्रीज से हाथ मिलाएगा

डाबर एवरेडी इंडस्ट्रीज से हाथ मिलाएगा

नई दिल्ली[ महामीडिया ]  डाबर के प्रवर्तक बर्मन परिवार ने देश की सबसे बड़ी ड्राई सेल बैटरी निर्माता एवरेडी  के कारोबार का प्रबंधन करने के लिए विलियमसन मेगर समूह के खेतान के साथ हाथ मिलाया है। 'सौदे की शर्तों पर काम हो रहा है लेकिन बर्मन इसमें सह-प्रवर्तक के तौर पर शामिल होंगे और निदेशक मंडल में भी उनका प्रतिनिधित्व होगा।करीब हफ्ते भर पहले बर्मन द्वारा कंपनी में अंतिम किस्त के तौर पर 8.48 फीसदी हिस्सेदारी खरीदे जाने के बाद एवरेडी में प्रवर्तक की हिस्सेदारी बर्मन से कम हो गई है। मौजूदा समय में बर्मन परिवार के पास एवरेडी की 19.84 फीसदी हिस्सेदारी है जबकि प्रवर्तकों के पास 15.07 फीसदी हिस्सा है। सूत्रों ने कहा कि मौजूदा शेयरधारिता प्रारूप के मुताबिक बर्मन परिवार कंपनी का बहुलांश साझेदार हो सकता है। इस साझेदारी के साथ एवरेडी के प्रवर्तकों को उम्मीद है कि दीर्घावधि में कंपनी के हितों की रक्षा हो सकेगी। इससे पहले एवरेडी एनर्जाइजर और ड्यूरासेल के साथ औने-पौने दाम पर बैटरी कारोबार को बेचने के लिए बात कर रही थी।हालांकि इसमें कानूनी पेच भी है। सौदे को अंतिम रूप देने का मामला दिल्ली उच्च न्यायालय के अंतरिम आदेश की वजह से लंबित है। अदालत ने एवरेडी, मैकलॉयड रसेल इंडिया और विलियमसन मेगर समूह की अन्य कंपनियों के पूंजी ढांचे में बदलाव तथा संपत्तियों की बिक्री पर रोक लगाई हुई है। केकेआर इंडिया ने विलियमसन मेगर समूह की कंपनियों को मूल रूप से 200 करोड़ रुपये का कर्ज दिया था और अपने निवेश पर राहत के लिए वह पिछले साल अदालत पहुंच गई थी। अगर इस मामले में खेतान के पक्ष में फैसला आता है तो साझेदारी का रास्ता साफ हो जाएगा।बर्मन ने कहा, 'हम खेतान को जानते हैं और वे कारोबार का प्रबंधन करने में लगे हैं। दुर्भाग्य की बात है कि उनकी समस्या एवरेडी से थोड़ी बड़ी थी। लेकिन जहां तक हमारी बात है तो हमारी दिलचस्पी केवल इसी कारोबार में है।' हालांकि एवरेडी एकमात्र ऐसी कंपनी है जहां बर्मन की हिस्सेदारी ज्यादा है लेकिन प्रबंधन पर उनका नियंत्रण नहीं है।बर्मन मूल रूप से कोलकाता के हैं। 1880 के दशक में एसके बर्मन ने स्वास्थ्य सेवा उत्पादों का कारोबार शुरू किया और डाबर इंडिया की स्थापना की थी। हालांकि 1972 में डाबर का परिचालन दिल्ली से होने लगा, जब दिल्ली से सटे इलाके में कंपनी ने अपना नया विनिर्माण संयंत्र स्थापित किया था।
 

सम्बंधित ख़बरें