शेयर बाजार आज फिर 'धड़ाम'

शेयर बाजार आज फिर 'धड़ाम'

मुंबई (महामीडिया) कोरोनावायरस ने दुनियाभर के शेयर बाजारों को भी गिरफ्त में ले रखा है और इसका असर भारतीय बाजार पर भी दिख रहा है। आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के सेंसेक्स ने इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट देखी। यह 34472.5 पर खुला था। दोपहर 2 बजकर 40 मिनट पर यह अधिकतम 3165 पॉइंट लुढ़कर 32531.74 पर जा चुका था। क्लोजिंग के वक्त यह थोड़ा संभला। फिर भी 2919.26 अंक की गिरावट के साथ 32,778.14 पर बंद हुआ। इससे पहले सेंसेक्स में पिछली बड़ी गिरावट इसी महीने की 9 मार्च को आई थी, जब यह इंट्राडे में 2467 पॉइंट तक गिर गया था, बाद में थोड़ा संभलकर 1941 अंक नीचे गिरकर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी का भी गुरुवार को कुछ ऐसा ही हाल रहा। यह भी दोपहर 2 बजकर 40 मिनट पर लुढ़ककर 9,508.00 पर जा चुका था। क्लोजिंग के वक्त यह 825.30 पाॅइंट की गिरावट के साथ 9633.10 पर बंद हुआ। 

शेयर बाजार के पतन के चलते निवेशकों के 11.42 लाख करोड़ रुपये डूब गए। बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बुधवार को कारोबार खत्म होने पर 137 लाख करोड़ रुपये था, जो गुरुवार को घटकर 126 लाख करोड़ रुपये रह गया। 
आज 2,573 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। इन कंपनियों में 2242कंपनियों के शेयरों में गिरावट और 225 कंपनियों के शेयरों में बढ़त देखी गई। 1,180 कंपनियों के शेयर एक साल के निचले स्तर पर पहुंच गए। 565 कंपनियों के शेयरों में लोअर सर्किट लगा। टाटा पावर, लक्ष्मी विलास बैंक, टाटा डीवीआर के शेयरों में तेजी देखने को मिली। टूरिज्म सेक्टर पर निगेटिव रिपोर्ट का असर स्पाइसजेट पर देखने को मिला। कंपनी के शेयर 19 फीसदी नीचे गिरकर बंद हुए। एनएसई में एक भी कंपनी के शेयर पॉजिटिव नहीं रहे। 

सम्बंधित ख़बरें