प्रिय छात्रों, आप प्रतिभाशाली हो…! शुभकामनाएं...!

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की परीक्षाएं शनिवार, 15 फरवरी से शुरू हो रही हैं। जबकि कक्षा 10 वीं बोर्ड की परीक्षाएं 20 मार्च को, कक्षा 12 वीं की बोर्ड परीक्षाएं 30 मार्च को संपन्न होंगी। महीने भर चलने वाली परीक्षा के लिए अतिरिक्त ध्यान और देखभाल देने की आवश्यकता है। ना सिर्फ प्रतिभागियों से लिए बल्कि उनके अभिवावको के लिए भी।

परीक्षा हमेशा ही तनावपूर्ण होती है, लेकिन वो असंभव नहीं होती जिसे पूरा ना किया जा सके । हम सभी परीक्षा हॉल में पहुंचकर होने वाली भावना से भली-भाती अवगत है, जहाँ हम अचानक से सब कुछ भूल जाते हैं --- यहां तक कि अपना नाम भी। लेकिन डरें नहीं, आप हमेशा जितना सोचते हैं उससे कहीं ज्यादा जान पाएंगे। प्रिय छात्रों, यदि आपने अच्छी तरह से विषयों को संशोधित किया है, तो सभी जानकारी वही होगी और जब आप प्रश्नपत्र देखेंगे तो आप वापस खुद को उन जानकारियों की बीच ही पाएंगे।  एक अच्छी तरह से नियोजित टाइम-टेबल बनाना समय को अच्छी तरह से प्रबंधित करने का सबसे अच्छा तरीका है। इसमें आप अपने माता-पिता की मदद भी ले सकते हैं ताकि समय-सारणी स्थापित करने में मदद मिल सके और आप इससे जुड़े  रहें। लेकिन याद रखें, टाइम-टेबल से जुड़े रहने की प्रेरणा आपको अपने भीतर से ही  आनी चाहिए। यह मजबूत रहने, नियमबद्ध और भीतर से शांतचित्त रहने का समय है!

अपने सपनों को जीवित रखें। आपको समझना होगा की कुछ भी हासिल करने के लिए आपको अपने आप में विश्वास और यकीन, दृष्टि, कड़ी मेहनत, दृढ़ संकल्प और समर्पण की आवश्यकता है। याद रखें कि सभी चीजें उनके लिए ही संभव होता है, जो विश्वास रखते हैं ।  जैसा कि प्रख्यात वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन ने कहा, “हर कोई प्रतिभाशाली है। लेकिन अगर आप किसी मछली को पेड़ पर चढ़ने की क्षमता से आंकते हैं, तो वह अपना पूरा जीवन इस बात पर विश्वास करते हुए बिता देगा कि यह मूर्खतापूर्ण है। ” यह वास्तव में महत्वपूर्ण है। कृपया, कृपया, कृपया अपनी किसी भी गलती को न देखें और सोचें कि अब आप ऐसा दुबारा नहीं कर सकते। परीक्षा से पहले एक ठोस नींद लेने के लिए समय पर बिस्तर पर जाएं। यह सुनिश्चित करेगा कि आप अगले दिन अपनी क्षमता का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। इसके अलावा स्वस्थ और दिमाग की क्षमता बढ़ाने वाले भोजन का सेवन करें, और प्रोसेस्ड या जंक फूड खाने से बचने की कोशिश करें। और खूब पानी पिए ।

उत्तर लिखने से पहले,  पहले सभी प्रश्नों को अच्छी तरह पढ़े । जिससे आप जल्द ही आसान और कठिन वर्गों की पहचान कर पाएंगे, और सुनिश्चित कर पाएंगे कि आपको किन प्रश्नों के लिए कितना अधिक समय आवंटित करना हैं। उन प्रश्नों को प्राथमिकता दें जिन पर आपको भरोसा है कि आप तेजी से हल कर सकते हैं।

बच्चों की परीक्षा की तैयारियों में उनके माता-पिता भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि कुछ बच्चे आसानी से विचलित हो जाते हैं। इसलिए यह बहुत मददगार होता है अगर माता-पिता पढ़ाई के दौरान उनके साथ बैठें। उनसे पाठ्यक्रम से यादृच्छिक प्रश्न पूछें और थोड़ा शामिल हों।

यह सलाह दी जाती है कि माता-पिता पढ़ाई के बीच छात्रों को हर 2 घंटे में मनोरंजन के लिए समय दें और उन्हें अपने ब्रेक के समय में परेशान न करें और उन्हें वह करने दें जो वे करना चाहते हैं। यह छात्रों और अभिभावकों दोनों के लिए परीक्षा के दौरान घर में एक स्वस्थ वातावरण बनाए रखने में मदद करेगा ।

इसलिए, प्रिय छात्रों, अपने सपनों का पीछा करते रहे, अपने आप पर विश्वास रखे और कभी भी हार न मानें। आप एक प्रतिभाशाली हैं!

शुभकामनाएं!

 

- प्रभाकर पुरंदरे

अन्य संपादकीय