शाकाहारी आहार

भोपाल (महामीडिया) शाकाहारी आहार के प्रति लोगों की लोकप्रियता में वृद्धि देखी गयी है। एक शाकाहारी आहार कई स्वास्थ्य लाभों से जुड़ा हुआ है, क्योंकि इसमें  उच्च मात्रा में फाइबर, फोलिक एसिड, विटामिन सी और ई, पोटेशियम, मैग्नीशियम, और वसा होता है जो अधिक असंतृप्त होता है।  अन्य शाकाहारी आहारों की तुलना में, शाकाहारी आहार में कम संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल और अधिक आहार फाइबर होते हैं।
शाकाहारी और वेगन आहार स्वस्थ के लिए लाभप्रद हो सकते हैं, लेकिन उनमें कुछ पोषक तत्वों की कमी भी हो सकती है। इसके लिए थोड़े से रचनात्मकता का उपयोग करना होगा ताकि यह सुनिश्चित हो सके की आपको अपने आहार में पर्याप्त प्रोटीन, कैल्शियम, लोहा और विटामिन बी 12 प्राप्त हो रहा है या नहीं । यदि आप शाकाहारी हैं  तो अंडे और दूध उत्पादों से कई पोषक तत्व पा सकते हैं और यदि आप वेगन है तो आप पौधों के स्रोत से प्राप्त कर सकते हैं। ऐसे घटक जिनके लिए विशेष घ्यान देना होगा वो हैं- प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन बी 12, विटामिन डी, आवश्यक फैटी एसिड, जस्ता, आयोडीन, और लोहा।
कई अध्ययनों से पता चला है कि वेगन आहार से मोटापे को काफी हद तक कम किया जा सकता हैं क्योंकि इसमें बहुत कम मात्रा में ट्रांस फैट  (जो मुख्य रूप से प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों में पाया जाता है  उसके साथ आंशिक रूप से हाइड्रोजनीकृत वसा हैं), कुछ सैचुरेटेड फैट ( जो पूरी तरह से हाइड्रोजनेटेड वेजिटेबल आयल में भी पाए जाते हैं), और अधिक आहार फाइबर शामिल  होते हैं।
एक अध्ययन के आंकड़ों से पता चला है कि मांसाहारियों में शाकाहारी लोगों की तुलना में कोलोरेक्टल और प्रोस्टेट कैंसर दोनों का खतरा काफी ज्यादा हैं । एक शाकाहारी भोजन विभिन्न प्रकार के कैंसर-रक्षणीय आहार कारक प्रदान करता है।
शाकाहारी आहारों की पोषण संबंधी पर्याप्तता में व्यापक अध्ययन और शोध किए गए हैं, लेकिन शाकाहारियों और शाकाहारी लोगों के दीर्घकालिक स्वास्थ्य के बारे में कम ही जाना जा सका । शाकाहारियों का दीर्घकालिक स्वास्थ्य आम तौर पर अच्छा ही रहता है, और कुछ बीमारियों और चिकित्सा स्थितियों के लिए इसकी  तुलना सर्वभक्षी लोगों से करना बेहतर हो सकता है।
याद रखें, शाकाहारी और वेगन आहार स्वस्थ के लिए लाभदायक हो सकते हैं, लेकिन उनमें कुछ पोषक तत्वों की कमी भी हो सकती है। इसके लिए थोड़े से रचनात्मकता का उपयोग करना होगा ताकि यह सुनिश्चित हो सके की आपको अपने आहार में पर्याप्त प्रोटीन, कैल्शियम, लोहा और विटामिन बी 12 प्राप्त हो सके  । यदि आप शाकाहारी हैं  तो अंडे और दूध के उत्पादों से और यदि आप वेगन है तो पौधों के स्रोत से कई जरुरी पोषक तत्व पा सकते हैं
एक अच्छी तरह से संतुलित वेगन आहार जिसमें कम नमक हो और प्रसंस्कृत भोजन हृदय रोग, स्ट्रोक को रोकने और मधुमेह के खतरे को कम करने में मदद कर सकते  है। जैसे कि शाकाहारी आहार में आयरन, जिंक और कैल्शियम जैसे पोषक तत्वों का सेवन कम हो जाता है; हमारा शरीर उन्हें आंत से अवशोषित करने में बेहतर होता हैं।

- प्रभाकर पुरंदरे

अन्य संपादकीय