वर्ल्ड फादर्स डे : बच्चों के लिए जीवन का पहला आदर्श होते हैं पिता

आज यानि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस और विश्व संगीत दिवस के साथ-साथ वर्ल्ड  फादर्स डे भी मनाया जा रहा हैl  पिता यानि जीवन का सबसे सशक्त आधारl बच्चों के भावी जीवन की छवि उकेरने वाली नींव के मजबूत आधारस्तंभl  पिता न केवल बच्चों के सलाहकार या मित्र होते हैं, बल्कि,  उनके शक्तिस्तंभ भी होते हैंl पिता का साथ और स्नेह बच्चों को जीवन जीने का आत्मविश्वास , उल्लास और ऊर्जा देता हैl
बच्चों के लिए पिता ही जीवन का पहला आदर्श होते हैंl  वे अपने पिता से बहुत कुछ सीखते हैंl दरअसल, पिता से मिला मार्गदर्शन बच्चों की जिन्दगी की दिशा तय करता हैl  बच्चों के लिए पिता रोल-माडल या हीरो होते हैंl  इसीलिए भावनात्मक चुनौतियों से जूझने की हिम्मत भी बच्चों को पिता से ही मिलती हैl
बच्चों के जन्म से उनकी पढाई -लिखाई , दुनियादारी की समझ, संस्कारों का बीजरोपण, सही-गलत  का निर्णय केवल मां की ही जिम्मेदारी नहीं है, बल्कि पिता की भी हैl
जीवन की अनगिनत उलझनों और परेशानियों से सामना करते हुए पिता हमेशा परिवार और बच्चों के उज्ज्वल जीवन के लिए संघर्षरत रहते हैंl
पिता की छवि कुछ कठोरता लिए होती हैl वे ऊपर से सख्त, परंतु भीतर से कोमल होते हैंl बच्चों के कोमल मन के लिए पिता के प्रेम की छांव एक घने पेड़ की छाया की तरह होती हैl पिता हर संकट का सामना कर, समस्या का मुकाबला कर बच्चों की हिम्मत बन्धाता हैl उनकी हिम्मत को टूटने नहीं देताl
पिता है तो हिम्मत है, आत्मविश्वास है, दुनिया में सबकुछ पाने की, सफलता की उम्मीद जिन्दा हैl

- प्रभाकर पुरंदरे

अन्य संपादकीय