डिफेंस एक्‍सपो में आज 23 एमओयू सम्पन्न हुए

डिफेंस एक्‍सपो में आज 23 एमओयू सम्पन्न हुए

लखनऊ   [ महामीडिया ] प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भावनाओं के साथ देश को रक्षा उत्‍पादन, शोध और उसके विकास के क्षेत्र में आत्‍मनिर्भर बनाने की दिशा में जो प्रयास प्रारंभ हुआ है, उसकी श्रृखंला के क्रम में डिफेंस एक्‍सपो का सफल आयोजन आज अपनी नई ऊंचाईयों को प्राप्‍त कर रहा है। यह बातें यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने डिफेंस एक्‍सपो में कहीं। उन्‍होंने बताया कि आज यहां पर विभिनन प्रकार के एमओयू कार्यक्रम रक्षा मंत्री के सामने पूरा हुआ है।सीएम योगी ने कहा, यूपी देश के अंदर निवेश का सबसे बेहतर डेस्टिनेशन बना है। आज यूपी के साथ UPEDA के माध्यम से 50 हजार करोड़ के 23 एमओयू साइन हुए है। ये एमओयू डिफेंस कॉरिडोर के लिए हुये है, जो बुंदेलखंड की तस्वीर बदल देगा। कहा, मुझे प्रसन्‍नता है कि रक्षा मंत्रालय ने अब तक इस प्रकार के एमओयू को बंधन के रूप में एक नया नामकरण देकर इसके साथ भावनात्‍मक संबध जोड़ा है। इसके लिए मैं सबका ह्रदय से स्‍वागत करता हूं। मुझे प्रसनना है कि डिफेंस एक्‍सपो का यह आयोजन करने का अवसर हमारी सरकार को प्राप्‍त हुआ। उत्‍तर प्रदेश ने इसमें सहभागी बन के प्रदेश की संभावनाओं को देश और दुनिया के सामने रखने का एक प्रयास किया है। सीएम ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2018 में उत्‍तर पद्रेश में एक डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा की थी। इस क्रम में हमने पिछले दो साल में रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर डिफेंस कॉरिडोर से संबंधित विभिन्‍न प्रकार के कार्यकम करने का प्रयास किया था। प्रदेश में रक्षा उत्‍पादन के क्षेत्र में लघु और सूक्ष्‍म इकाईया स्‍थापित करने का प्रयत्‍न किया। सीएम ने बताया कि 23 एमओयू हुए है, जिनके माध्‍यम से 50 हजार करोड़ रुपये के दस्‍तावेज पर हस्‍ताक्षर हुए है। इसके साथ ही प्रदेश में ढाई से तीन लाख नौजवानों को रोजगार की संभावना भी बढ़ेगीराजनाथ सिंह ने कहा, देश मे DRDO द्वारा 23 TOT साइन किया गए है। प्राइवेट सेक्टर्स को DRDO टेक्नोलॉजी ट्रांसफर करेगा। उन्‍होंने कहा, हम जल्द ही एक्सपोर्टर बनने जा रहे हैं। HAL और DGCA के बीच भी डाक्यूमेंट्स एक्सचेंज हुआ है। इससे रीजनल कनेक्टिविटी को बढ़ावा मिलेगा। उड़ान योजना के तहत यूपी के अधिकांस जिले जुड़ेंगे। एशिया के विशालतम रक्षा उपकरण प्रदर्शनी यानी डिफेंस एक्स्पो में तीसरे दिन शुक्रवार को रक्षा सौंदों का दिन है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में डेढ़ दर्जन से अधिक महत्वपूर्ण रक्षा करार होंगे। इसमें रक्षा उत्पादों के निर्माण संबंधी कई एमओयू साइन होंगे।
 

सम्बंधित ख़बरें