सेना की कैंटीन में नहीं मिलेगा विदेशी सामान 

सेना की कैंटीन में नहीं मिलेगा विदेशी सामान 

नई दिल्ली (महामीडिया) देश में आत्मनिर्भर भारत और लोकल फॉर वोकल अभियान को बढ़ावा देने के लिये तीनों सेनाओं से जुड़ा एक अहम फैसला लिया गया है, जिसके तहत केंद्र सरकार ने सेना की कैंटीन में विदेशी सामानों की बिक्री पर रोक लगा दी है।
एक रिपोर्ट के अनुसार मई से जुलाई के बीच भारतीय सेना, नौसेना और वायुसेना से इस मुद्दे पर चर्चा की गई। सभी की सहमति के बाद 19 अक्टूबर को इस संबंध में आदेश जारी किया गया। जिसके तहत अब सेना की कैंटीन में विदेशी सामान नहीं मिलेगा। जिसमें विदेशी शराब भी शामिल हो सकती है। केंद्र सरकार का ये आदेश देश की करीब 4000 हजार कैंटीन पर लागू होगा।
भारत की रक्षा कैंटीन में शराब, इलेक्ट्रानिक उपकरण, रोजमर्रा के सामान पूर्व सैनिकों और सैनिकों को रियायती दाम पर बेचे जाते हैं। जिस वजह से उनकी सालाना बिक्री 2 बिलियन डॉलर से ज्यादा की होती है। अब जो आदेश जारी हुआ है उसकी समीक्षा के अनुसार सीधे आयातित वस्तुओं की खरीद नहीं की जाएगी। इसका उद्देश्य स्वदेशी चीजों की बिक्री को बढ़ाना है।

सम्बंधित ख़बरें