गलवान घाटी में भारत-चीन हिंसक झड़प को लेकर पूर्व आर्मी चीफ वीके सिंह का बड़ा दावा http://www.mahamediaonline.com

गलवान घाटी में भारत-चीन हिंसक झड़प को लेकर पूर्व आर्मी चीफ वीके सिंह का बड़ा दावा

नई दिल्ली (महामीडिया) पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बीते दिनों भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुए हिंसक झड़प को लेकर केंद्रीय मंत्री और पूर्व आर्मी चीफ वीके सिंह ने बड़े दावे किए हैं. वीके सिंह के मुताबिक, चीनी टेंट में अचानक आग लग गई थी. जिसके बाद ही भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प शुरू हो गई. पूर्व आर्मी चीफ के मुताबिक, यह कह पाना मुश्किल है कि चीनी सैनिकों ने टेंट में क्या रखा हुआ था, जिससे आग लगी.
केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा- '15 जून की शाम हमारे कमांडिंग अफसर गलवान घाटी में देखने गए थे कि चीन सैनिक पीछे हटे हैं या नहीं. कमांडिंग अफसर ने देखा कि चीन के लोग पेट्रोलिंग प्वाइंट-14 के नजदीक ही हैं. हमसे इजाजत लेकर चीनी सेना ने वहां टेंट लगाया था. इस दौरान दोनों सेनाओं के बीच कहासुनी हुई. हमारे कमांडिंग अफसर ने तंबू हटाने का आदेश दिया. इसी दौरान चीन के टेंट में आग लग गई.'
सिंह का कहना है कि इस झड़प के दौरान हमारे लोग चीनी सेना के उपर हावी हो गए. चीन ने अपने और लोग बुलाए. हमारे लोगों ने भी अपने और जवान बुला लिए. चीन के लोग जल्दी आ गए, फिर हमारे लोग आए. अंधेरे में 500 से 600 लोगों के बीच झड़प हुई.
 

सम्बंधित ख़बरें