गोयनका समूह को मिला फॉर्च्यून इंडिया का प्रकाशन अधिकार

गोयनका समूह को मिला फॉर्च्यून इंडिया का प्रकाशन अधिकार

नई दिल्ली  [ महामीडिया  ] आरपी-संजीव गोयनका समूह को भारतीय बाजार के लिये वैश्विक व्यापार पत्रिका फॉर्च्यून के प्रकाशन अधिकार मिले हैं। कंपनी ने एक बयान में इसकी जानकारी दी।चार अरब डॉलर के आरपी-संजीव गोयनका (आरपीएसजी) समूह ने शुक्रवार को कहा कि उसने भारत में पत्रिका के प्रकाशन के लिये मूल प्रकाशक कंपनी फॉर्च्यून मीडिया समूह के साथ एक समझौता किया है।कंपनी ने कहा कि पत्रिका के भारतीय संस्करण का प्रकाशन सबसे पहले 2010 में हुआ था।आरपीसीजी समूह के चेयरमैन संजीव गोयनका ने इस बारे में कहा कि फॉर्च्यून इंडिया उसके बड़े ब्रांडों में एक नया जुड़ाव होगा।उन्होंने कहा, ‘‘फॉर्च्यून बड़े वैश्विक मीडिया ब्रांडों में से एक है। यह लगभग एक शताब्दी से मुख्य कार्यकारियों के लिये अवश्य पढ़े जाने की श्रेणी की पत्रिका है। फॉर्च्यून 500 और व्यवसाय में सबसे ताकतवर महिलायें जैसी सूचियों को मानक माना जाता है।’’फॉर्च्यून मीडिया समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  एलन मरे ने कहा, "भारत हमारे लिये एक प्रमुख बाजार है और हमें विश्वास है कि आरपीएसजी के साथ फॉर्च्यून इंडिया अधिक ऊंचाइयों तक पहुंच जायेगी।"फॉर्च्यून इंडिया पत्रिका फॉर्च्यून इंडिया 500, फॉर्च्यून इंडिया नेक्स्ट 500, फॉर्च्यून इंडिया 40 अंडर 40, फॉर्च्यून इंडिया मोस्ट पावरफुल वीमेन आदि का प्रकाशन करती है।
 

सम्बंधित ख़बरें