भारत जल्द  बनेगा खिलौना निर्माण का हब

भारत जल्द  बनेगा खिलौना निर्माण का हब

नईदिल्ली [ महामीडिया ] भारत को खिलौना निर्माण का हब बनाने के लक्ष्य के साथ केंद्र सरकार खिलौना आयात पर नॉन टैरिफ बैरियर लगाने की तैयारी कर रही है। इस कदम से घरेलू स्तर पर खिलौना कारोबार को प्रोत्साहन मिलेगा। अगले साल मार्च से खिलौना आयात के लिए लाइसेंस की व्यवस्था चरणबद्ध तरीके से शुरू की जा सकती है। सरकार का लक्ष्य है कि देश को खिलौना निर्माण में आत्मनिर्भर बनाया जाए, साथ ही घरेलू उद्योग ऊंचे गुणवत्ता मानकों के पालन के लिए भी तैयार हो।सरकार ने गुणवत्ता के नए मानक बनाए हैं और घरेलू मैन्यूफैक्चरर्स को जनवरी तक इनका अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा गया है। साथ ही सरकार घरेलू उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए टैरिफ से इतर कई अन्य तरीकों से आयात को नियंत्रित करने पर विचार कर रही है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने खिलौनों को गैर आवश्यक आयात की श्रेणी में रखा है। इस श्रेणी के उत्पादों के आयात पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं। 
 

सम्बंधित ख़बरें