मकर संक्रांति: रंग-बिरंगी पतंगों से सजा राजकोट का बाजार

मकर संक्रांति: रंग-बिरंगी पतंगों से सजा राजकोट का बाजार

राजकोट (महमीडिया) देश के कई शहरों में मकर संक्रांति पर पतंग उड़ाने की परंपरा है। इसी परंपरा के कारण मकर संक्रांति को पतंग पर्व भी कहा जाता है। मकर संक्रांति के अवसर पर बाजार रंग-बिरंगी पतंगों से सज गये हैं। इस बार गुजरात के राजकोट बाजार में पतंगों की ढेर सारी नई-नई वैराएटी देखने को मिल रही है। यहां के बाजार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कोरोनावायरस और विराट कोहली-अनुष्का शर्मा की फोटोज की थीम पर बनीं पतंगे दिखाई दे रही हैं।
एक दुकानदार ने बताया कि इस साल पतंगों की 1,500 से ज्यादा वेराइटी बाजार में मौजूद हैं। हर साल की तरह इस बार भी पीएम मोदी और लेटेस्ट कोरोनोवायरस थीम वाली पतंगों की सबसे अधिक मांग है। अबकी बार बाजार में अनुष्का वाली पतंगों के साथ-साथ एनिमेटेड कैरेक्टर्स और सुपरहीरोज वाली पतंगे भी खूब बिक रही हैं।
भारत में मकर संक्रांति पर पतंग उड़ाने का अलग महत्व हैं। धार्मिक महत्व की बात करें तो इसका संबंध भगवान राम से बताया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि भगवान राम ने मकर संक्रांति पर पतंग उड़ाने की शुरुआत की थी। तमिल की तन्दनानरामायण के अनुसार भगवान राम ने जो पतंग उड़ाई वह इन्द्रलोक में चली गई थी। भगवान राम द्वारा शुरू की गई इसी परंपरा को आज भी निभाया जाता है।
 

सम्बंधित ख़बरें