नीट के परिणाम में मध्यप्रदेश को निराशा ,एक भी विद्यार्थी मेरिट में नहीं

नीट के परिणाम में मध्यप्रदेश को निराशा ,एक भी विद्यार्थी मेरिट में नहीं

भोपाल [महामीडिया] देशभर के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए होने वाली नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट  परीक्षा के परिणाम ने इस बार विद्यार्थियों के सपनों पर पानी फेर दिया। कई सालों में ऐसा पहली बार हुआ है जब मध्यप्रदेश से किसी भी विद्यार्थी का नाम ऑल इंडिया मेरिट लिस्ट में नहीं है।इस वर्ष शहर के जिस विद्यार्थी को 720 में से 680 अंक प्राप्त हुए है वे टॉप 500 ऑल इंडिया रैंक में शामिल नहीं हो पाए जबकि पिछले सालों में 2018 के परिणाम में 690 अंक लाने वाले विद्यार्थी को ऑल इंडिया रैंक एक प्राप्त हुई थी। 2019 में 701 अंक लाने वाला विद्यार्थी ऑल इंडिया टॉपर था।670 अंक लाने वाला विद्यार्थी टॉप 100 रैंक में शामिल था। वहीं 2020 के नीट परिणाम में 720 अंक वाला विद्यार्थी ऑल इंडिया टॉपर रहा है। 50वीं रैंक पर 701 अंक वाले को जगह मिली है। यह आंकड़े दिखाते हैं कि इस बार अंक अच्छे आने के बाद भी विद्यार्थियों की रैंक कम रही है।
 

सम्बंधित ख़बरें