मप्र में अब प्री-प्राइमरी एवं प्राइमरी कक्षाओं की भी ऑनलाइन पढ़ाई होगी

मप्र में अब प्री-प्राइमरी एवं प्राइमरी कक्षाओं की भी ऑनलाइन पढ़ाई होगी

भोपाल (महामीडिया) भारत सरकार शिक्षा मंत्रालय द्वारा ऑनलाइन डिजिटल शिक्षण के संबंध में जारी नए निर्देश के बाद अब मध्यप्रदेश में भी बच्चों की ऑनलाइन क्लास शुरू की जाएगी। अब प्री-प्राइमरी एवं प्राइमरी कक्षाओं में भी ऑनलाइन/डिजिटल कक्षाओं के माध्यम से शिक्षण कार्य किया जा सकेगा। अभी तक प्री-प्राइमरी से लेकर कक्षा 5वीं तक की क्लास के लिए ऑनलाइन पढ़ाई पर रोक है।
केंद्रीय मानव एवं विकास संसाधन मंत्रालय ने दूरस्थ शिक्षा विशेषकर मोबाइल/लैपटॉप/कम्प्यूटर के माध्यम से ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन को देखते हुए निर्देश जारी किए हैं। इसमें प्री-प्राइमरी कक्षाओं में सप्ताह में 3 दिन, अधिकतम 30 मिनट तक ऑनलाइन क्लास ली जा सकती है। इसके लिए पालक एवं अभिभावकों से भी चर्चा की जाएगी। प्रारंभिक कक्षाओं (पहली से आठवीं तक) के लिए नियत दिवसों में सप्ताह में 5 दिन अधिकतम 2 सत्र किए जा सकेंगे एवं प्रत्येक सत्र की अवधि 30 से 45 मिनट तक होगी। हाई एवं हायर सेकंडरी (कक्षा 9वीं से 12वीं) कक्षाओं के लिए नियत दिनों में सप्ताह में 6 दिन अधिकतम 4 सत्र किए जा सकेंगे। प्रत्येक सत्र की अवधि 30 से 45 मिनट तक होगी।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक दिन पहले कहा था कि कोरोना संकटकाल में कोई भी निजी स्कूल बच्चों से ट्यूशन फीस के अलावा कुछ नहीं लेगा। इतना ही नहीं, फीस नहीं भर पाने वाले बच्चों को किसी भी स्थिति में स्कूल से नहीं निकाला जाएगा। इसकी पूरी जिम्मेदारी शिक्षा विभाग की है। अधिकारी निजी स्कूलों की निगरानी करें और परेशानी में फंसे अभिभावकों का ध्यान रखें।
मध्य प्रदेश में प्राइवेट और सरकारी स्कूल 31 अगस्त तक बंद रहेंगे। इस संबंध में आज आदेश जारी हो गया है। केंद्र सरकार की अनलॉक-3 की गाइडलाइन में स्कूल-कॉलेज बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।
 

सम्बंधित ख़बरें