ईपीएफ से लेकर LPG और मिनिमम बैलेंस के आज से बदले नियम

ईपीएफ से लेकर LPG और मिनिमम बैलेंस के आज से बदले नियम

नई दिल्ली (महामीडिया) देश में आज यानि 1 अगस्त से कई अहम बदलाव हो रहे हैं, इनका सीधा सा असर आपकी जेब पर पड़ने वाला है. बैंक एकाउंट में मिनिमम बैलेंस, ईपीएफ समेत कार और बाइक खरीद पर भी नए नियम आज से लागू हुए हैं. 
मिनिमम बैलेंस के नियमों में बदलाव
आज से कई बैंक मिनिमम बैलेंस को लेकर अपने नियम बदलने जा रहे हैं. अब न्यूनतम बैलेंस पर बैंक ने चार्ज लगाने का फैसला किया है. कहा जा रहा है कि डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इसे लागू किया जा रहा है. वहीं तीन ट्रांजेक्शन के अलावा अन्य लेनदेन पर भी शुल्क आपको देना होगा. जानकारी के अनुसार, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, कोटक और एक्सिस बैंक आज से अपने नियमों में बदलाव कर रहे हैं.
सेविंग्स एकाउंट्स पर ब्याज दरों में बदलाव
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने हाल ही में सेविंग्स एकाउंट्स के ब्याज को लेकर नियमों में बदलाव किया है, ये नई दरें आज से लागू हो रही हैं. अब सेविंग्स एकाउंट्स में अगर आप एक लाख रुपए तक की राशि जमा करते हैं तो उस पर सालाना 4.75 फीसदी की दर से अपाको ब्याज मिलेगा. वहीं 1 से 10 लाख की राशि से 6 फीसदी जबकि 10 से 5 करोड़ तक 6.75 फीसदी इंटरेस्ट आपको मिलेगा.
LPG की कीमत
हर महीने की पहली तारीख को तेल कंपनियां LPG सिलेंडर की नई कीमतों का ऐलान करती हैं, लेकिन अगस्त के महीने में LPG कंपनियों की कीमतों में राहत दी गई है. कंपनियों ने LPG सिलेंडर की कीमतों में इस महीने इज़ाफा नहीं किया है. आपको बता दें कि पिछले काफी वक्त से LPG की कीमतों में बढ़ोत्तरी देखने को मिली थी.
ई-कॉमर्स कंपनियां
आज यानि 1 अगस्त से ई-कॉमर्स कंपनियों को प्रोडक्ट के ओरिजन कंट्री की जानकारी देगी होगी. प्रोडक्ट कहां बना और किसने बनाया है, इसका पता कंपनी को बताना होगा. हालांकि पहले से ही काफी कंपनियों ने इस बात के बारे में जानकारी देनी शुरू कर दी थी. डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड ने सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को 1 अगस्त तक प्रोडक्ट्स का कंट्री ऑफ ओरिजन अपडेट करने के लिए कहा था.
EPF को लेकर अहम बदलाव
कोरोनावायरस (Coronavirus) संकट के चलते 3 महीने के लिए घटाया गया ईपीएफ कॉन्ट्रिब्यूशन अब पहले की तरह हो जाएगा. यानि अब आपकी सैलरी से 10 फीसदी की जगह पहले की तरह ही 12 फीसदी ईपीएफ कॉन्ट्रिब्यूशन कटेगा. वहीं कंपनियां भी 10 की जगह अब 12 फीसदी ईपीएफ कॉन्टिब्यूशन जमा कराएंगी.
बाइक-गाड़ी खरीद पर बदले नियम
1 अगस्त यानि आज से बाइक खरीदना सस्ता होगा, क्योंकि केंद्र सरकार ने कार और टू व्हीलर्स को लेकर ज़रूरी इंश्योरेंस के नियम बदले हैं. IRDAI ने लॉन्ग टर्म पैकेज्‍ड थर्ड पार्टी और ऑन डैमेज पॉलिसी को वापस लिया है. अब गाड़ी के लिए 3 से 5 साल के लिए इंश्योरेंस पॉलिसी लेना अनिवार्य नहीं होगा, जिससे ऑन रोड कीमत पर असर पड़ेगा.
 

सम्बंधित ख़बरें