राम मंदिर ट्रस्ट के फैसले का स्वागत-उमा भारती

राम मंदिर ट्रस्ट के फैसले का स्वागत-उमा भारती

भोपाल [महामीडिया] केंद्र सरकार द्वारा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट गठित करने के फैसले का स्वागत करते हुए भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने बुधवार को कहा कि अगर बाबरी मस्जिद का ढांचा नहीं गिराया गया होता, तो (मंदिर की) सच्चाई लोगों के सामने नहीं आती।प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री पत्रकारों से बात कर रही थीं, जब उनसे बाबरी विध्वंस के बारे में एक सवाल किया गयाइसके उत्तर में भारती ने कहा, ‘अगर संरचना नहीं हटाई गई होती, तो पुरातत्वविदों की टीम महत्वपूर्ण सबूतों का पता नहीं लगा पाती.’ जब उनसे राम मंदिर निर्माण का श्रेय देने के बारे में सवाल किया गया तब उन्होंने कहा, ‘9 नवंबर 2019 के फैसले का श्रेय माननीय सर्वोच्च न्यायालय को जाता है, लेकिन जिन साक्ष्यों ने वास्तव में निर्णय का आधार बनाया, वे अयोध्या में (6 दिसंबर, 1992 को) अपनी जान गंवाने वालों के परिणाम थे।
 

सम्बंधित ख़बरें