स्वास्थ्यः हरा प्याज खाने के फायदे

स्वास्थ्यः हरा प्याज खाने के फायदे

भोपाल (महामीडिया) हम अपने घरों में प्याज का उपयोग बहुत ज्यादा मात्रा में करते हैं। अपनी सब्जियों को बनाने में, सलाद बनाने में और सेहत आदि के लिए कई तरह की औषधि के रूप में भी प्याज का उपयोग करते हैं। लेकिन हरा प्याज न सिर्फ स्वाद में बेहतरीन होते हैं बल्कि इसमें अनगिनत फायदे भी छिपे होते हैं। इन पत्तियों में मौजूद पोषक तत्व हमारी सेहत को स्वस्थ बनाए रखने में बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं। पत्ते वाली सब्जियां न सिर्फ पोषण से भरपूर होती हैं बल्कि ये आपकी सेहत की भी गारंटी होती हैं।
हरे प्याज में कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन सी, प्रोटीन, फॉस्फोरस, सल्फर और कैल्शियम पाया जाता है। पत्ते वाली सब्जियां हमारे मुंह के दुर्गंध को दूर करने में कारगर हैं। इनके अलावा उनसे दांतों की सफाई भी हो जाती है। हरे पत्ते वाली सब्जियों को खाने से आपके आंखों की रोशनी भी बढ़ती है और मोतियाबिंद के लक्षण कम होते हैं। संतुलित आहार लेने से आपकी सेहत बेहतर रहती है। साथ ही ये आपकी उम्र में भी बढ़ोत्तरी करता है।
हरा प्याज खाने के फायदे
हरा प्याज खाने से कब्ज से छुटकारा मिलता है और एसिडिटी खत्म हो जाता है। अगर आपके पेट में जलन होती है तो ये उससे भी आराम दिलाती है। दिल की बीमारी में भी ये काफी मददगार है। इस सब्जी से आपको हर तरह की मौसमी बीमारियों में फायदा होता है। ये आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद करती है। ब्लड शुगर लेवल में कमी लाती है। बड़ी आंत के कैंसर से छुटकारा दिलाने के अलावा आपकी हड्डियों को बी मजबूत करती है।
कैंसर के खतरे को करता है कम
हरे प्याज में सल्फर भरपूर मात्रा में होता है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। इसमें एलिल सल्फाइड और फ्लेवोनोइड्स जैसे योगिक पाए जाते हैं, जो कैंसर को रोकने में मददगार होते हैं और कैंसर की कोशिकाओं को पैदा करने वाले एंजाइम से लड़ते हैं।
ब्लड शुगर लेवल को घटाता है
हरे प्याज में मौजूद सल्फर आपका ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मददगार होता है। सल्फर यौगिकों की वजह से शरीर के इंसुलिन पैदा करने की क्षमता बढ़ने लगती है। ये आपके डायबिटीज को काफी हद तक रोकने में कारगर होता है।
पाचन में लाता है सुधार
हरे प्याज में फाइबर भरपूर मात्रा में होता है, जो पाचन को बेहतर बनाने में मददगार होता है। आप इसे किसी भी तरह से अपनी डाइट में जोड़ सकते हैं। आप चाहें तो इसे कच्चा भी इस्तेमाल में ला सकते हैं।
 

सम्बंधित ख़बरें