जायफल करता है जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को दूर 

जायफल करता है जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को दूर 

भोपाल (महामीडिया) जायफल का इस्तेमाल ज्यादातर खाने का स्वाद और खुशबू बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन इसके और भी कई फायदे हैं। यह बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को कम करता है और नींद न आने की समस्या को दूर करता है। सीमित मात्रा में जायफल का सेवन करते हैं तो ब्लड शुगर में कमी आती है, इसलिए यह डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। हेल्थकेयर सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की डायटीशियन डॉ. अनुजा गौर बता रही हैं इसके फायदे...
1. सूजन, मांसपेशियों और जोड़ों का दर्द से राहत
जायफल में शक्तिशाली यौगिकों का मिश्रण होता है, जो बीमारियों को रोकने और सेहत को दुरुस्त करने में मदद करता है। जायफल में पाए जाने वाले तेल की मात्र कुछ बूंदें ही प्रभावित हिस्से पर लगाने से सूजन, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द में राहत मिलती है।
2. कब्ज, गैस और नींद न आने की समस्या दूर करता है
आयुर्वेद के अनुसार, एक चुटकी जायफल पाउडर को एक गिलास गर्म दूध में मिलाकर रात को सोने से पहले पीना चाहिए। कुछ बादाम और एक चुटकी इलायची भी इसमें मिला सकते हैं। यह पाचन में मदद करता है। अगर आप दस्त, क़ब्ज, पेट फूलना या गैस जैसी पाचन संबंधी समस्याओं से पीड़ित हैं, तो सूप में एक चुटकी जायफल पाउडर घोलें और इसे पी जाएं। यह यादाश्त भी बढ़ाता है।
3. सांसों की दुर्गंध खत्म करता है
यह मुंह से बैक्टीरिया को हटाने में मदद करता है। इन बैक्टीरिया की वजह से सांस लेने पर दुर्गंध आती है। यह आमतौर पर आयुर्वेदिक टूथपेस्ट और गम पेस्ट में जरूरी सामग्री के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।
4. तनाव और बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर कम करता है
जायफल में तनाव कम करने वाला गुण होता है। यह रक्त वाहिकाओं को आराम देकर हृदय गतिविधियों को ठीक ढंग से चलाए रखने में मदद करता है। ब्लड प्रेशर सामान्य करने के कारण इससे हृदय रोगों का खतरा कम हो जाता है।
5. लीवर की सूजन दूर करता है
जायफल मैरिसलिगनन से भरपूर होता है, जो लीवर डिसऑर्डर और चोटों के इलाज में मददगार होता है। रिसर्च से पता चला है कि जायफल में पाए जाने वाले अर्क, हेपेटाइटिस की सूजन का इलाज करने में मददगार हैं।
6. डायबिटीज़ के मरीजों के लिए फायदेमंद
इसमें एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है। रिसर्च के मुताबिक़, जायफल के इस्तेमाल से ब्लड शुगर में कमी आती है।
7. गरम मसाला
जायफल आमतौर पर मिठाई, मसालेदार भोजन, पुडिंग, कस्टर्ड, कुकीज़ और मसाला केक में इस्तेमाल किया जाता है। यह पनीर के साथ अच्छी तरह से मेल खाता है। सूप में इसे टमाटर, स्लिट मटर, चिकन या काली बीन्स के साथ खा सकते हैं।

सम्बंधित ख़बरें