प्रदेश सहित पूरे देश में मनाया गया महर्षि ज्ञानयुग दिवस

भोपाल (महामीडिया) भावातीत ध्यान के प्रणेता महर्षि महेश योगी जी की 103वीं जयंती  करौंदी, छतरपुर उमरिया पान, जबलपुर, बिलासपुर सहित पूरे प्रदेश एवं देश में मनाया गया। इस अवसर पर विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जहां करौंदी में तैलीय चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर गुरूदेव को माल्यार्पण किया गया। वहीं छतरपुर में सामूहिक भावातीत ध्यान का आयोजन कर महर्षि महेश योगी जी की जयंती मनाई गई। इस असर पर लगभग सभी जगह प्रत्येक मानव में चेतना जागृत करने और उसे स्थायित्व देने के लिए सहज,सरल विधि- भावातीत ध्यान की  चर्चा की गई। इसके सुबह एवं शाम को नियमित करने से प्रत्येक व्यक्ति को क्या लाभ होता है यह सभी लोगों को बताया गया ।छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के ज्ञान युग दिवस के कार्यक्रम मे कहा गया की छत्तीसगढ़ की धरती के सपूत महर्षि जी ने पूरी दुनिया मे भारतीय संस्कृति का परचम लहराया और महान चेतना वैज्ञानिक और विश्व गुरु बने।पुरे प्रदेश एवं देश के अन्य भागों  से महर्षि महेश योगी जी की 103वीं जयंती मनाये जाने के समाचार प्राप्त हुए हैं। इस अवसर पर बड़ी संख्या में विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयेाजन कर विश्व गुरू महर्षि महेश योगी जी के कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए उनका स्मरण किया गया है। इस अवसर पर सभी जगह बड़ी संख्या में उनके अनुयायी एवं शिष्य कार्यक्रम में उपस्थित थे ।

सम्बंधित ख़बरें