गणतंत्र दिवस परेड के दौरान इस बार दिखेगी राफेल की झलक

नई दिल्ली [ महामीडिया ]वायुसेना को मिलने जा रहा सबसे अत्याधुनिक लड़ाकू विमान राफेल भले अभी कुछ महीनों बाद भारत आएगा मगर इसकी धमक की झलक इस बार राजपथ पर दिखाई देगी।गणतंत्र दिवस परेड के दौरान स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस और आकाश मिसाइल के साथ राफेल के प्रतिरूप भारतीय वायुसेना की झांकी का हिस्सा होगा।दुश्मन पर हमला बोलने में सक्षम अपाचे और चिन्हुक हेलीकाप्टर पहली बार गणतंत्र दिवस परेड पर लड़ाकू विमानों के साथ राजपथ के उपर उड़ान भरेंगे।वायुसेना ने गणतंत्र दिवस परेड के सबसे आकर्षक शो लड़ाकू विमानों के उड़ान समेत अपनी झांकी की तैयारी पूरी कर ली है। विमान के फ्लाई पास्ट में वायुसेना के 41 जेट और चार हेलीकाप्टर शामिल होंगे। इसमें 16 फाइटर जेट विमान, 10 ट्रांसपोर्ट विमान भी शामिल होंगे। इसमें जगुआर, सुखोई, मिग-29, सी-130जे सुपर हरक्यूलस के साथ अपाचे, चिन्हुक और एमआई-17 हेलीकाप्टर शामिल हैं।राष्ट्रपति भवन की ओर से राजपथ के आकाश से गुजरते हुए ये लड़ाकू विमान और हेलीकाप्टर भारतीय वायुसेना की ताकत का अहसास कराते हुए अपने करतब से दर्शकों का दिल जीतेंगे।वहीं झांकी में जाहिर तौर पर राफेल जेट का प्रतिरूप वायुसेना की ताकत में होने जा रहे नये इजाफे का संदेश देगा। वैसे चार राफेल विमानों की पहली खेप मई महीने में भारत आएगा।इन चार राफेल विमानों को दासौ कंपनी ने भारतीय वायुसेना को फ्रांस में सौंप दिया है और वायुसेना के पायलट व इंजीनियर इसके प्रशिक्षण उड़ान के लिए वहां हैं। मालूम हो कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बीते साल अक्टूबर में इन राफेल विमानों को सौंपे जाने के फ्रांस में हुए समारोह में शिरकत की थी।
 

सम्बंधित ख़बरें