महामीडिया न्यूज सर्विस
हिमाचल के ऊना से लीक हुआ था सीबीएसई का पेपर

हिमाचल के ऊना से लीक हुआ था सीबीएसई का पेपर

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 218 दिन 13 घंटे पूर्व
08/04/2018
ऊना (महामीडिया)   केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड  12वीं के अर्थशास्त्र का पेपर लीक होने के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने तीन आरोपितों को हिमाचल प्रदेश के ऊना से गिरफ्तार कर नौ दिन बाद बड़ी सफलता हासिल की है।आरोपितों की पहचान ऊना स्थित डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के अर्थशास्त्र के सीनियर शिक्षक राकेश कुमार, क्लर्क अमित शर्मा व चपरासी अशोक के रूप में हुई है। आरोपितों ने 26 मार्च को हुई अर्थशास्त्र की परीक्षा का हस्तलिखित पेपर 23 मार्च को ऊना से वाट्सएप पर लीक कर दिया था। इसके बाद वाट्सएप गु्रप के जरिये पेपर दिल्ली के छात्र-छात्राओं के पास पहुंच गया।विशेष आयुक्त अपराध शाखा आरपी उपाध्याय के मुताबिक, शिक्षक राकेश कुमार  डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल में गत 10 वर्षो से पढ़ा रहा है। वहीं, अमित शर्मा इसी स्कूल में 16 साल से क्लर्क व अशोक 18 साल से चपरासी के पद पर कार्यरत है।गिरफ्तारी के बाद स्कूल प्रबंधन ने तीनों को स्कूल से निकाल दिया है। दरअसल, राकेश कुमार को गत चार वर्षो से स्कूल के प्रधानाचार्य अपनी जगह सीबीएसई की परीक्षा में सेंटर सुप्रीटेंडेंट नियुक्त करते थे। इस कारण उसे सीबीएसई की परीक्षा के दिशा निर्देश, बैंकों में पेपर रखे होने, वहां से परीक्षा के सेंटर पर पेपर ले जाने व फिर बचे हुए पेपर को बैंक के स्ट्रांग रूम में रखने आदि सभी नियमों के बारे में जानकारी थी। इस बार भी परीक्षा में डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य ने राकेश कुमार को जवाहर नवोदय विद्यालय ऊना के परीक्षा केंद्र का सेंटर सुप्रीटेडेंट नियुक्त किया था।

और ख़बरें >

समाचार