महामीडिया न्यूज सर्विस
एक लाख लोगों की मौत की सुनवाई में होंगे एक हजार न्यायविद

एक लाख लोगों की मौत की सुनवाई में होंगे एक हजार न्यायविद

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 396 दिन 10 घंटे पूर्व
18/04/2018
न्यूयार्क (महामीडिया)   अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया जोआक्यून अल चेपो गजमेन के खिलाफ सुनवाई के लिए अमेरिकी अदालत ने अनूठा फैसला लिया है। ट्रायल में आठ सौ से एक हजार न्यायविदो की सहायता ली जा रही है। अमेरिका में इससे पहले बड़े से बड़े विवादास्पद मामले की सुनवाई में इतनी बड़ी संख्या में कानूनविद नहीं बुलाए गए।गौरतलब है कि अमेरिका व मैक्सिको में ड्रग कारोबार पर एकछत्र राज के लिए चली गैंगवार में एक लाख से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। गजमेन को मैक्सिको पुलिस ने 2016 में गिरफ्तार किया था। 61 वर्षीय माफिया को जनवरी 2017 में प्रत्यर्पण संधि के जरिये अमेरिका में लाया गया था। उसे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जेल में रखा गया है। उसकी कितनी दहशत है इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि ब्रुकलिन की संघीय अदालत के जज ब्रायन कॉगन ने फरवरी में आदेश दिया था कि ज्यूरी के सदस्यों की पहचान उजागर न की जाए।अभियोजन पक्ष ने कहा था कि ज्यूरी के सदस्य नहीं चाहते कि बेवजह उनकी या फिर परिवार की जान पर खतरा पैदा हो। जज ने अभियोजन पक्ष से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि ज्यादातर अहम साक्ष्य उनके पास अभी भी आने बाकी हैं। उन्होंने 18 मई इसके लिए अंतिम तिथि निर्धारित की है। उनका कहना है कि ट्रायल सितंबर में शुरू होगा, लेकिन उससे पहले जुलाई या फिर अगस्त में सभी कानूनविदों को मामले से जुड़े सवाल उपलब्ध करा दिए जाएंगे, जिससे वो अपनी तैयारी सही तरीके से कर सकें।गजमेन पर आरोप है कि वह कोकीन, हेरोईन व मेथमफेटामाइन का रैकेट चला रहा था। कारोबार में अपना एक छत्र राज कायम करने के लिए उसने अपने गैंग मैक्सिको सिनालोआ कार्टल को इतना सशक्त बना दिया कि उसके विरोधियों का लगभग सफाया हो गया। उधर, उसकी पत्नी एम्मा कॉरोनल का कहना है कि उसे अपने पति से मिलने की अनुमति नहीं दी जा रही है। गजमेन के वकील एडुराडो बालारेजो का कहना है कि हिरासत में उसके मुवक्किल की हालत दिन ब दिन खराब होती जा रही है। उसे गहन सुरक्षा में रखा गया है।

और ख़बरें >

समाचार