महामीडिया न्यूज सर्विस
क्या रोहिंग्या जैसा होगा असम के 40 लाख लोगों का हाल

क्या रोहिंग्या जैसा होगा असम के 40 लाख लोगों का हाल

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 54 दिन 11 घंटे पूर्व
31/07/2018
नई दिल्ली (महामीडिया) पहचान और नागरिकता का प्रश्न असम में रहने वाले लाखों लोगों के लिए लंबे वक्त तक परेशानी का सबब बना रहा.असम भारत का वो राज्य है, जहां बहुत-सी जातियों के लोग रहते हैं. बंगाली और असमी बोलने वाले हिंदू भी यहां बसते हैं और उन्हीं के बीच जनजातियों के लोग भी रहते हैं.असम की तीन करोड़ बीस लाख की आबादी में एक तिहाई आबादी मुस्लिमों की हैं. आबादी के प्रतिशत के लिहाज से भारत प्रशासित कश्मीर के बाद सबसे ज़्यादा मुस्लिम यहीं रहते हैं.इनमें से कई ब्रितानी शासन के दौरान भारत आकर बस गए प्रवासियों के वंशज हैं.लेकिन पड़ोसी देश बांग्लादेश से आए अवैध प्रवासी दशकों से चिंता का विषय रहे हैं. इनके खिलाफ छह साल तक प्रदर्शन किए गए. इस दौरान सैंकड़ों लोगों की हत्याएं हुईं.



और ख़बरें >

समाचार