महामीडिया न्यूज सर्विस
इंडिया में कारें नहीं बेचेगी जनरल मोटर्स

इंडिया में कारें नहीं बेचेगी जनरल मोटर्स

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 154 दिन 23 घंटे पूर्व
19/05/2017
 नई दिल्ली  [महामीडिया]:  शेवरले ब्रांड की मालिक जनरल मोटर्स भारत में 2017 के बाद कारें नहीं बेचेगी। कंपनी यह कदम अपने बिजनेस की ग्लोबल रिस्ट्रक्चरिंग के तहत उठा रही है। इसमें वह अपने पैसे और संसाधनों का उपयोग कारोबार के ज्यादा आकर्षक अवसरों में करेगी।यह अमेरिकी कंपनी हालांकि एक्सपोर्ट्स के लिए तालेगांव के अपने कारखाने में प्रॉडक्शन करती रहेगी। पिछले साल उस कारखाने से एक्सपोर्ट तीन गुना हो गया था।
लोकल मार्केट में अपने कामकाज के कंसॉलिडेशन की शुरुआत कर चुकी और गुजरात के अपने हलोल प्लांट में उत्पादन अप्रैल में बंद कर चुकी कंपनी ने कहा कि तालेगांव कारखाने का उपयोग एक्सपोर्ट्स के लिए किया जाता रहेगा, खासतौर से मध्य और दक्षिण अमेरिकी देशों के लिए।
जनरल मोटर्स चेयरमैन और सीईओ मेरी बर्रा ने कहा, 'इंडस्ट्री में लगातार बदलाव हो रहे हैं। हम भी अपने बिजनेस को बदल रहे हैं। हम जीएम को कहीं ज्यादा अनुशासित कंपनी बना रहे हैं। हम ज्यादा रिटर्न वाले क्षेत्रों में पूंजी लगाएंगे, जिससे हमें अपने प्रमुख कारोबार में आगे बढ़ने और भविष्य में पर्सनल मोबिलिटी के मामले में अगुवा बनने में मदद मिलेगी।'
कंपनी ने गुरुवार को साउथ अफ्रीका और ईस्ट अफ्रीका के बाजारों से किनारा कर लिया। इसुजू ने साउथ अफ्रीका में उसका एक प्लांट खरीद लिया। उसने इसके साथ दोनों ही बाजारों में जीएम का हिस्सा भी खरीदा।  पिछले कुछ महीनों से जीएम ने वेनेजुएला में कामकाज बंद कर दिया था, घाटे का सबब बन रहे ओपल और वॉक्सहॉल ब्रांड्स को पीएसए ग्रुप के हाथों बेच दिया था, रूस के बाजार से वह बाहर निकल गई थी, इंडोनेशिया और ऑस्ट्रेलिया में उसने उत्पादन बंद कर दिया था और थाईलैंड में कामकाज की रिस्ट्रक्चरिंग की थी। अपने ग्लोबल हेडक्वॉर्टर से जीएम ने एक प्रेस स्टेटमेंट जारी किया और बाद में इंडियन मीडिया के लिए एक कॉन्फ्रेंस कॉल की। इसमें सवाल पूछने का मौका नहीं दिया गया था।  जीएम की इंडियन यूनिट बीट हैचबैक, छोटी सेडान एमियो और क्रूज के अलावा इसकी पॉपुलर एमयूवी टवेरा, एंजॉय और ट्रेलब्लेजर बनाती रही है।
कंपनी के लोकल चीफ काहिर काजिम ने कहा कि जनरल मोटर्स का अपने निर्णय पर दोबारा सोचने या लोकल मार्केट में अपने पोर्टफोलियो से किसी दूसरे ब्रांड के जरिए बिक्री फिर चालू करने का कोई प्लान नहीं है। यह निर्णय जनरल मोटर्स इंडिया के भविष्य के प्रॉडक्ट्स क योजनाओं की समीक्षा के बाद किया गया। यह कदम दुनियाभर में कंपनी के प्रदर्शन की ग्लोबल लीडरशिप की ओर से की गई समीक्षा के तहत उठाए गए कदमों का भी हिस्सा है। यह रिव्यू जून 2016 में शुरू किया गया था, लेकिन काजिम ने बताया कि अंतिम निर्णय हाल में किया गया।

और ख़बरें >

समाचार