महामीडिया न्यूज सर्विस
देश भर में कृष्ण कन्हैया के जन्मोत्सव की धूम

देश भर में कृष्ण कन्हैया के जन्मोत्सव की धूम

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 414 दिन 2 घंटे पूर्व
02/09/2018
भोपाल (महामीडिया) भारत सहित विदेशों में भी जन्माष्टमी पर्व की तैयारियां जोरों पर हैं। इस बार जन्माष्टमी 2 सितंबर रविवार को भादो की अष्टमी रात 8 बजकर 46 मिनट से शुरू होगी। उदयकालीन अष्टमी 3 सितंबर 2018 को है। इसलिए जन्माष्टमी पर्व सोमवार को मनाया जायेगा। मथुरा और वृंदावन में इस उत्सव की तैयारियां हो चुकी हैं। मंदिरों को फूलों से सजाया गया है। पूरा का पूरा मथुरा और वृंदावन भक्तिमय हो गया हैं। भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को ही जन्माष्टमी कहा जाता है। इस दिन प्रातःकाल स्नान आदि से निवृत होकर भगवान श्रीकृष्ण के व्रत का संकल्प लिया जाता है। इसके बाद केले, आम और अशोक की पत्तियों से मंडप तैयार फिर पालना सजाया जाता है। इस दिन घर के मुख्यद्वार पर मंगल कलश एवं मूसल स्थापित कर मध्य रात्री को शंख और घंटे की ध्वनि के बीच गर्भ के प्रतीक नार वाले खीरे से भगवान का जन्म करवाया जाता है। तत्पश्चात पंचोपचार पूजन की जाती हैं। भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति को एक पात्र में रख कर दुग्ध, दही, शहद, पंचमेवा और सुंगध युक्त शुद्घ जल और गंगा जल से स्नान कराकर पालने में स्थापित कर पीले वस्त्र पहनायें। इसके बाद विधि विधान से आरती करें। अंत में उन्हें नैवैद्य अर्पित करें। इस दौरान भगवान के निकट एक बांसुरी रखना शुभ माना जाता है।
और ख़बरें >

समाचार