महामीडिया न्यूज सर्विस
हम अध्यात्म के साथ-साथ कौशल विकास की शिक्षा देंगे- ब्रह्मचारी गिरीश

हम अध्यात्म के साथ-साथ कौशल विकास की शिक्षा देंगे- ब्रह्मचारी गिरीश

admin | पोस्ट किया गया 7 दिन 8 घंटे पूर्व
14/09/2018
भोपाल (महामीडिया) आज महर्षि कौशल विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान का उद्घाटन महर्षि गंर्धव वेद भवन, कीरत नगर, भोजपुर मंदिर मार्ग, भोजपुर में संपन्न हुआ। इसका शुभारंभ करते हुए महर्षि विद्या मंदिर समूह के चेयरमैन ब्रह्मचारी गिरीश ने कहा कि आजकल हम जिसको रोजगर परक शिक्षा कहते हैं उससे हटकर इस केन्द्र में हम अध्यात्म के साथ-साथ कौशल विकास की शिक्षा देंगे। महर्षि महेश योगी जी ने विश्व के 124 देशों में भावातीत ध्यान की शिक्षा का जिस तरह प्रचार एवं प्रसार किया था जिसमें सिद्ध निर्माण की भी योजना थी अर्थात ऐसे व्यक्तियों के समूह का गठन जिनके द्वारा जो चाहा जाये वह सिद्ध और सफल हो जाये। महर्षि कौशल विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान में किसी भी विधा का वास्तविक ज्ञान एवं व्यावहारिक ज्ञान दिया जायेगा। जहां मशीनें होंगी वहीं पर पूरा सैद्धांतिक ज्ञान भी दिया जायेगा और व्यवहारिक ज्ञान भी।
'हारिये न हिम्मत, बिसारिये न राम' अर्थात हम हिम्मत नहीं हारते। हमें भोजपुर क्षेत्र से प्रारंभ करके इसे भोजपुर के आसपास लगभग 70 ग्रामों में इसको ओर आगे बढ़ायेंगे। हम इस दिशा में स्थानीय नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों को भी जोड़ेंगे। प्रशिक्षण रोजगार एंव स्वरोजगार की दिशा में यह संस्थान अन्य कौशल विकास केन्द्रों से हटकर कार्य करे यही हमारी इच्छा है। 
महर्षि संस्थान द्वारा महिलाओं सहित ग्रामीणों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए तीन माह के व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रारंभ करने की घोषणा की गई है। इसमें सिलाई, कढ़ाई, एम्ब्रायडरी, डिजाईनिंग, फैशन टैक्नोलाजी एवं अन्य विधा के अन्य पाठ्यक्रम संचालित किये जायेंगे। उपरोक्त व्यावसायिक प्रशिक्षण का शुल्क मात्र 700/- रुपये प्रतिमाह है। 
इस अवसर पर महर्षि महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भुवनेश शर्मा, महर्षि विद्या मंदिर समूह के निदेशक संचार एवं जनसंपर्क व्ही. आर. खरे, महर्षि खादी ग्राम के कंसल्टेंट नरेंद्र वीरसिंह त्यागी एवं विश्व शांति आंदोलन की प्रदेश अध्यक्ष गीता प्रकाशम उपस्थित थीं। प्रशिक्षण के इच्छुक स्थानीय नागरिक एवं महिलाओं को केंद्र में पहुंचकर संपर्क करने की सलाह दी गई है। उद्घाटन कार्यक्रम का शुभारंभ महर्षि समूह की परंपरा के अनुरूप गुरु पूजन से प्रारंभ हुआ एवं केंद्र में प्रारंभ की जाने वाली प्रशिक्षण गतिविधियों की विस्तृत जानकारी दी गई। इस अवसर पर महर्षि समूह के बड़ी संख्या में अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।    
और ख़बरें >

समाचार