महामीडिया न्यूज सर्विस
नवरात्र के छठे दिन देवी कात्यायनी की होती है श्रद्धा भाव से पूजा

नवरात्र के छठे दिन देवी कात्यायनी की होती है श्रद्धा भाव से पूजा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 308 दिन 8 घंटे पूर्व
15/10/2018
भोपाल (महामीडिया) आज नवरात्र का छठा दिन है। आज पूरे श्रद्धाभाव से देवी कात्यायनी की पूजा की जाती है। शास्त्रों के अनुसार देवी ने कात्यायन ऋषि के घर उनकी पुत्री के रूप में जन्म लिया था, इसी कारण इनका नाम कात्यायनी पड़ा। मां कात्यायनी का यह स्वरूप बहुत ही अमोघ फलदायिनी माना जाता है। दिव्य रुपा कात्यायनी देवी का शरीर सोने के समाना चमकीला है। चार भुजा धारी मां कात्यायनी सिंह पर सवार हैं। उनके एक हाथ में तलवार तथा दूसरे में प्रिय पुष्प कमल हैं। अन्य दो हाथ वरमुद्रा और अभयमुद्रा में हैं। मां कात्यायनी का वाहन सिंह है। गोधूली वेला के समय पीले या लाल वस्त्र धारण करके मां कात्यायनी पूजा करनी चाहिए। मां कात्यायनी को फूल और पीला नैवेद्य अर्पित करना चाहिए। आज मां को शहद का अर्पण बहुत ही शुभ माना जाता है साथ ही मां कात्यायनी को सुगन्धित पुष्प अर्पित करने चाहिए।

और ख़बरें >

समाचार