महामीडिया न्यूज सर्विस
370, 35ए हटाने के अलावा कोई विकल्प नहीं - राजनाथ सिंह

370, 35ए हटाने के अलावा कोई विकल्प नहीं - राजनाथ सिंह

admin | पोस्ट किया गया 134 दिन 5 घंटे पूर्व
09/04/2019
जम्मू (महामीडिया) भाजपा द्वारा अपने संकल्प पत्र में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 और 35 ए हटाने की बात कहे जाने के बाद घाटी के नेता भड़क गए हैं। हालांकि, पिछले दिनों भी राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने राज्य के लिए अलग प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को लेकर बयान दिया था। उनके इसी बयान पर अब केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने निशाना साधा है।
गृह मंत्री ने राजनीतिक दलों की जम्मू-कश्मीर में अलग वजीर-ए-आजम बनाने की मांग पर कड़े तेवर दिखाते हुए कहा कि अब राज्य में अनुच्छेद 370 और 35ए हटाने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।  कश्मीर में सदर-ए-रियासत और अलग वजीर-ए-आजम बनाने की मांग उठाने वाले नेशनल कांफ्रेंस के उप प्रधान उमर अब्दुल्ला का नाम लिए बिना राजनाथ ने कहा कि कांग्रेस और देश के नेता बताएं कि आपका इस पर क्या नजरिया है। क्या आप भी चाहते हैं कि देश में दो प्रधानमंत्री हों? राजनाथ सिंह ने कहा कि अलगाववादियों से बात करने की कोशिश की गई। इसके लिए मुख्यमंत्री से सहयोग मांगा गया, उनसे आग्रह भी किया, वे नहीं माने, नौ हजार से अधिक पत्थरबाजों को माफ किया, उसके बाद भी वे अगर दूसरा प्रधानमंत्री मांगते हैं तो हमारे पास विशेष दर्जे को समाप्त करने के अलावा कोई चारा नहीं बचा है। जम्मू-कश्मीर के नेता बताएं, उन्हें क्या चाहिए।राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में या तो नेशनल कांफ्रेंस या कांग्रेस या पीडीपी के मुख्यमंत्री बने हैं, मेरा उनसे सवाल है कि यहां पर विकास क्यों नहीं हुआ?गृह मंत्री सोमवार दोपहर करीब ढाई बजे जम्मू के चुनावी दौरे पर पहुंचे थे। उन्होंने पहले दोपहर को जम्मू संभाग के डोडा जिले के भद्रवाह में ऊधमपुर-डोडा के उम्मीदवार और प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह के समर्थन में चुनावी रैली को संबोधित किया। इसके बाद वह शाम 5.20 बजे के करीब सीमा से करीब छह किलोमीटर की दूरी पर सुचेतगढ़ के बड़याल काजियां गांव पहुंचे।
और ख़बरें >

समाचार