महामीडिया न्यूज सर्विस
नवरात्र की महासप्तमी के दिन होती है माँ कालरात्रि देवी की पूजा

नवरात्र की महासप्तमी के दिन होती है माँ कालरात्रि देवी की पूजा

admin | पोस्ट किया गया 163 दिन 7 घंटे पूर्व
12/04/2019
भोपाल (महामीडिया) आज चैत्र नवरात्र का सातवां दिन है। आज के दिन मां दुर्गा के सातवें स्वरूप माँ कालरात्रि की पूजा की जायेगी। माँ कालरात्रि देवी के स्मरण मात्र से ही भूत-पिशाच, भय और अन्य सभी तरह की परेशानी दूर हो जाती हैं। अतः आज के दिन मां कालरात्रि की पूजा बड़ी ही फलदायी है। मां दुर्गा ने असुरों के राजा रक्तबीज का वध करने के लिए मां कालरात्रि के रूप को उत्पन्न किया। मां के इस रूप की पूजा करने से बुरे समय का नाश होता है और इनकी कृपा से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। मां की पूजा के लिए लाल रंग के कपड़े पहनने चाहिए। मकर और कुंभ राशि के जातकों को कालरात्रि की पूजा जरूर करनी चाहिए। परेशानी में हों तो सात या सौ नींबू की माला देवी को चढ़ाएं। सप्तमी की रात्रि तिल या सरसों के तेल की अखंड ज्योत जलाएं। सिद्धकुंजिका स्तोत्र, अर्गला स्तोत्रम, काली चालीसा, काली पुराण का पाठ करना चाहिए। यथासंभव, इस रात्रि संपूर्ण दुर्गा सप्तशती का पाठ करें।
और ख़बरें >

समाचार