महामीडिया न्यूज सर्विस
हिन्दू धर्म का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार है राम नवमी

हिन्दू धर्म का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार है राम नवमी

admin | पोस्ट किया गया 193 दिन 5 घंटे पूर्व
13/04/2019
भोपाल (महामीडिया) राम नवमी हिन्दू धर्म का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार है। राम नवमी आज है। आज ही महाष्टमी का व्रत और पूजन तथा घर-घर मे की जाने वाली नवमी पूजा होगी। इस प्रकार 13 अप्रैल को महाष्टमी और महानवमी दोनों का व्रत होगा। क्योंकि 13 अप्रैल को सुबह 08:16 बजे के बाद ही नवमी तिथि लग जाएगी जो 14 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक ही विद्यमान रहेगी। अत: नवमी तिथि में ही नवरात्र संबंधित हवन-पूजन 14 अप्रैल को सुबह छह बजे के पूर्व किसी भी समय किया जा सकता है।
राम नवमी को भगवान राम के जन्मदिन के तौर पर समूचे भारत में मनाया जाता है। भगवान राम का जन्म मध्याह्न काल में नवमी तिथि को पुनर्वसु नक्षत्र में कौशल्या की कोख से राजा दशरथ के घर हुआ था। धर्म अध्यात्म के अनुसार चैत्र के महीने के नौवें दिन राम नवमी का उत्सव पृथ्वी पर परमात्मा शक्ति के होने का प्रतीक है। चैत्र नवमी के दिन भगवान विष्णु का जन्म अयोध्या के राजा दशरथ के बड़े पुत्र राम के रूप में हुआ था। राम के जन्म का उद्देश्य रावण की दुष्ट आत्मा को नष्ट करना था। इसलिए राम नवमी का उत्सव धर्म की शक्ति की महिमा , अच्छे और बुरे के बीच के संघर्ष को दर्शाता है। राम नवमी का दिन सूर्य की प्रार्थना करने के साथ शुरू होता है। सूर्य शक्ति का प्रतीक है और हिंदू धर्म के अनुसार सूर्य को राम का पूर्वज माना जाता है इसलिए, उस दिन की शुरुआत में सूर्य को प्रार्थना करने का उद्देश्य सर्वोच्च शक्ति का आशीर्वाद प्राप्त करना होता है। अयोध्या में राम नवमी उत्सव भगवान राम के जन्मस्थान उल्लेखनीय हैं। राम नवमी का त्योहार भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या में पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। यहाँ की सरयु नदी में स्नान करके सभी भक्त भगवान श्री राम जी का आशिर्वाद प्राप्त करते हैं। राम नवमी का पूजन शुद्ध और सात्विक रुप से भक्तों के लिए विशष महत्व रखता है। इस दिन प्रात:कल स्नान इत्यादि से निवृत हो भगवान राम का स्मरण करते हुए भक्त लोग व्रत और उपवास का पालन करते हैं। इस दिन लोग उपवास करके भजन कीर्तन से भगवान राम को याद करते हैं। साथ ही कई स्थानों पर भंडारे और प्रसाद को भक्तों की बीच बाँटा जाता है। भगवान राम का पूरा जीवन जनमानस के कल्याण के लिए समर्पित रहा। 
और ख़बरें >

समाचार