महामीडिया न्यूज सर्विस
सिद्धिदात्री पूजन से नवरात्रि का समापन

सिद्धिदात्री पूजन से नवरात्रि का समापन

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 127 दिन 14 घंटे पूर्व
14/04/2019
भोपाल (महामीडिया)नवरात्रि के नौवें दिन शक्ति सिद्धिदात्री का पूजन किया जाता है. पूर्ण भक्ति भाव के द्वारा पूजा अर्चना करने से सभी प्रकार की सिद्धि प्रदान करने के कारण देवी का नाम सिद्धिदात्री पड़ा है. मां सिद्धिदात्री सभी दुखों का नाश करती हैं. नवरात्रि के नौवें दिन इनकी पूजा करके नव ग्रहों को शांत किया जा सकता है. देवी सिद्धिदात्री का वाहन सिंह है और देवी कमल के पुष्प पर आसीन रहती हैं. साथ ही हाथ में कमल, सिंह, गदा, सुदर्शन, चक्र धारण किए हुए हैं. सिद्धिदात्री देवी को मां सरस्वती का रूप भी माना जाता है. देवी सिद्धिदात्री को मौसमी फल, हलवा पूड़ी, काले चने, नारियल आदि का भोग लगाया जाता है और नवमी पूजन के साथ व्रत का समापन होता है.ज्योतिष गणना अनुसार नवमी तिथि शनिवार को प्रातः 11 बजकर 41 मिनट से आरंभ होकर रविवार यानी आज प्रातः 9 बजकर 35 मिनट तक रहेगी. उदयातिथि को मानने के  कारड नवमी पूजनकाल रविवार के दिन भी अहोरात्र बना रहेगा.
और ख़बरें >

समाचार