महामीडिया न्यूज सर्विस
महाराष्ट्रा में भाजपा-शिवसेना का वर्चस्व

महाराष्ट्रा में भाजपा-शिवसेना का वर्चस्व

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 61 दिन 2 घंटे पूर्व
24/05/2019
मुंबई (महामीडिया) लोकसभा सीटों के लिहाज से यूपी के बाद सबसे अधिक  सीटों वाले महाराष्ट्र में एक बार फिर मोदी लहर चली है। अकेले भाजपा को 23 और सहयोगी शिवसेना को 18 सीटें मिली हैं। कांग्रेस के खाते में 01 और एनसीपी को 4 सीटों पर सिमटना पड़ा।
वहीं, दूसरी ओर, भाजपा ने कांग्रेस के दिग्गज राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखने वाले विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे सुजय पाटिल को पार्टी में शामिल कर कांग्रेस का मनोबल तोड़ दिया था। वहीं, एनसीपी सुप्रीमों शरद पवार के पश्चिम महाराष्ट्र में माढ़ा से एनसीपी सांसद विजय सिंह मोहिते पाटिल को पार्टी में शामिल कर एनसीपी की रणनीति को तार-तार कर दिया था।
लोगों ने राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दे पर भाजपा-शिवसेना गठबंधन को समर्थन दिया। कांग्रेस को सूबे में सबसे बुरा दिन देखना पड़ा है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शिवसेना के साथ गठबंधन कर पहले ही चुनाव का रूख अपनी ओर मोड़ दिया था। ग्रामीण इलाको में सूखे की मार पर राष्ट्रवाद भारी पड़ गया। किसान हो या नौजवान उन्हें राष्ट्रवाद और विकास का मुद्दा ज्यादा पसंद आया। मराठा आरक्षण मुद्दा भी भाजपा महाराष्ट्र में बारिश के बाद विधानसभा का चुनाव होना है। नतीजे फिर दोहराए जा सकते हैं।
और ख़बरें >

समाचार