महामीडिया न्यूज सर्विस
सुप्रीम कोर्ट के फैसले से न्यायपालिका की विश्वसनीयता कम हुई- अरुण शौरी

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से न्यायपालिका की विश्वसनीयता कम हुई- अरुण शौरी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 6 दिन 6 घंटे पूर्व
10/02/2019
नई दिल्ली (महामीडिया ) अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे और वरिष्ठ पत्रकार अरुण शौरी ने शुक्रवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने रफाल की याचिका पर जो फैसला सुनाया है, वह देश की न्यायपालिका की विश्वसनीयता को कम करने जैसा है. शौरी उन याचिकाकर्ताओं में से हैं, जिन्होंने रफाल डील की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दायर की थी.एक कार्यक्रम से इतर पत्रकारों ने उनसे सवाल पूछा था कि क्या रफाल मामले में सुप्रीम कोर्ट जाने को लेकर उन्हें कोई पछतावा है? इस पर उन्होंने जवाब दिया, ?मुझे कोई पछतावा नहीं है. वास्तव में फैसले से न्यायपालिका की विश्वसनीयता कम हो गई. सरकार की ओर से दी गई रिपोर्ट के आधार पर ही फैसला सुना दिया गया. इसलिए हमने अपनी बात को साबित किया है. शौरी का कहना है कि वो रफाल मामले को लेकर पुनर्विचार याचिका दायर करेंगे.

और ख़बरें >

समाचार