महामीडिया न्यूज सर्विस
विपक्ष अपने नंबर की चिंता छोड़कर लोगों के मुद्दे उठाये: मोदी

विपक्ष अपने नंबर की चिंता छोड़कर लोगों के मुद्दे उठाये: मोदी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 65 दिन 23 घंटे पूर्व
17/06/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) नई सरकार के गठन के बाद लोकसभा का पहला सत्र आज से आरंभ हो गया है। आज 17वीं लोकसभा के पहले सत्र से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी ने एक संक्षिप्त संबोधन दिया। प्रधानमंत्री ने लोकतंत्र में विपक्ष की महत्ता को रेखांकित किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने सभी दलों से सकारात्मक सहयोग की अपेक्षा करते हुए विपक्ष को लोकतंत्र की अनिवार्य शर्त बताया। प्रधानमंत्री ने कहा कि सामर्थ्यवान विपक्ष से लोकतंत्र मजबूत होता है। इसके साथ ही उन्होंने सहयोग की मांग करते हुए कहा कि विपक्षी दलों को नंबरों की चिंता छोड़कर अपना योगदान देना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी आवाज और चिंताएं सरकार के लिए उतनी ही महत्वपूर्ण हैं। 
प्रधानमंत्री ने कहा, 'नई लोकसभा के गठन के बाद आज प्रथम सत्र प्रारंभ हो रहा है। अनेक नए साथियों के परिचय का यह अवसर है। भारत के लोकतंत्र की विशेषता ताकत का अनुभव हम हर चुनाव में करते हैं। यह चुनाव इसलिए भी खास है कि आजादी के बाद सबसे ज्यादा महिला प्रतिनिधियों का चुना जाना, सबसे अधिक मतदान जैसे विशेषताओं का चुनाव रहा।' मोदी ने कहा कि कई दशकों के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब एक सरकार को पूर्ण बहुमत के साथ और पहले से अधिक सीटों के साथ जनता ने सेवा का मौका दिया है। उन्होंने ऊर्जावान विपक्ष के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष का होना, सक्रिय होना और सामर्थ्यवान होना अनिवार्य शर्त है। 
और ख़बरें >

समाचार