महामीडिया न्यूज सर्विस
डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया नमन

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया नमन

admin | पोस्ट किया गया 62 दिन 23 घंटे पूर्व
23/06/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर श्रद्धांजलि दी और कहा कि डॉ. मुखर्जी ने अपना पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित कर दिया। प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, "डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर स्मरण कर रहा हूं । एक समर्पित देशभक्त और राष्ट्रवादी।" उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी का पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित था। एक मजबूत और एकजुट भारत के लिये उनका जुनून हमें आज भी प्रेरित करता है और 130 करोड़ भारतीयों की सेवा करने की ताकत प्रदान करता है। 
इससे पहले नई दिल्‍ली स्थि‍त भारतीय जनता पार्टी मुख्‍यालय पर डॉ.मुखर्जी की पुण्‍यतिथि पर विशेष श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। जिसमें भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के अन्‍य नेता उपस्थित हुए और श्रद्धां‍जलि अर्पित की। अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के लिए सिर्फ राष्ट्र सर्वोपरि था इसीलिए उन्होंने सत्ता का त्याग कर देश की एकता और अखंडता के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया. अमित शाह ने कहा कि एक देश में दो विधान, दो प्रधान और दो निशान के विरुद्ध डॉ. मुखर्जी ने स्वतंत्र भारत का पहला राष्ट्रवादी आंदोलन छेड़ा था। जेपी नड्डा ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने कहा था कि भारत के तिरंगे का ही सम्मान होना चाहिए इसीलिए दो निशान, दो विधान और दो प्रधान नहीं चलेंगे। उन्हीं के बलिदान के कारण ही आज जम्मू कश्मीर से परमिट की व्यवस्था समाप्त हुई है। बीजेपी नेता ने कहा कि डॉ मुखर्जी प्रखर राष्ट्रवादी, दूरद्रष्टा और दिशा देने वाले नेता थे। बता दें कि  23 जून 1953 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मृत्यु हो गयी थी । 
और ख़बरें >

समाचार