महामीडिया न्यूज सर्विस
बिहार - उड़ीसा में बाढ़

बिहार - उड़ीसा में बाढ़

admin | पोस्ट किया गया 26 दिन 1 घंटे पूर्व
31/07/2019
दिल्ली (महामीडिया) देश भर में बारिश का कहर जारी हैं। लगातार हो रही बारिश से देश भर के लोगों को परेशानी का शामना करना पड़ रहा है। देश के कई राज्यों में लगातार हो रही बारिश से जन-जीवन अस्त वियस्त हो गया है। बिहार के 13 जिलों में आयी बाढ़ से अब तक 130 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 88.46 लाख आबादी प्रभावित हुई है. असम में सभी प्रमुख नदियों में जल स्तर अब घटने लगा है. पिछले 24 घंटे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है. राज्य में बाढ़ की चपेट में आने से 86 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं देखा जाए तो यही हालात उड़ीसा के भी है। लगातार हो रही बारिश के कारण उड़ीसा में भी बाढ़ का खतरा लगातार बना हुआ है। जिससे लोग परेशान दिखाई पड़ रहे है। देश के कई प्रदेशों में बारिश का कहर जारी है। 
केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार की कई नदियां बूढी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान और खिरोही नदी विभिन्न स्थानों पर आज सुबह खतरे के निशान से उपर बह रही थीं. भारतीय मौसम विभाग के अनुसार बिहार की सभी नदियों के जलग्रहण क्षेत्रों में बुधवार की सुबह तक हल्की से साधारण बारिश की संभावना जतायी गयी है।
असम में सभी प्रमुख नदियों में जल स्तर अब घटने लगा है। पिछले 24 घंटे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। राज्य में बाढ़ की चपेट में आने से 86 लोगों की मौत हो चुकी है। गुवाहाटी से मिली खबर के मुताबिक, असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) ने कहा कि 13 जिलों के 864 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। धेमाजी, दरांग, बारपेटा, नलबाड़ी, चिरांग, गोलपाड़ा, कामरूप, कामरूप (एम), मोरीगांव, नगांव, गोलाघाट, जोरहाट और कछार जिले बाढ़ से प्रभावित हैं. एएसडीएमए ने बताया कि कुल 417 राहत कैंप चलाए जा रहे हैं. इसमें 30925 लोगों ने शरण ले रखी है। 
और ख़बरें >

समाचार