महामीडिया न्यूज सर्विस
हजारों मरीज हड़ताल से परेशान

हजारों मरीज हड़ताल से परेशान

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 47 दिन 23 घंटे पूर्व
31/07/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) डॉक्टरों की लगातार हड़तालों से मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अभी कुछ ही दिन पहले बंगाल में हुए हादसे से पूरे देश के डॉक्टर हड़ताल पर थे और आज फिर पूरे देश के डॉक्टर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) लोकसभा में पारित एनएमसी बिल के विरोध में आ गया है। आईएमए से जुड़े डॉक्टर बुधवार को सेवाएं नहीं देंगे। डॉक्टर 24 घंटे हड़ताल पर रहेंगे। इससे मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि पुराने मरीजों का इलाज हो रहा है। 
आईएमए प्रवक्ता सुनील हर्ष के मुताबिक, एनएमसी बिल को आईएमए ने अलोकतांत्रिक और देश के स्वास्थ्य सेवाओं से खिलवाड़ करने वाला काला बिल बताया। इस बिल के पास होने से सरकार 3.5 लाख अप्रशिक्षित लोगों को मॉडर्न एलोपैथी प्रेक्टिस की अनुमति देगी, जो गलत है। इसके अलावा देशभर के 506 मेडिकल कॉलेज में से 279 निजी कॉलेज अब 50 प्रतिशत सीटों पर फीस का निर्धारण करेंगे। इस नियम से हर साल 18 हजार सीटें योग्य की बजाय पैसे वाले स्टूडेन्ट्स को मिलेंगी। जो मेडिकोज अंतिम वर्ष की एमबीबीएस परीक्षा देंगे, वो देशभर में एक समान होगी। एग्जिट टेस्ट की यह परीक्षा पास करने पर ही मेडिकल ग्रेजुएट प्रैक्टिस कर सकेगा। पीजी में एडमिशन भी इसी टेस्ट में मिले मार्क्स के आधार पर मिलेगा। लाभ सिफारिशियों को ही मिलेगा। 
और ख़बरें >

समाचार