महामीडिया न्यूज सर्विस
विवादों में फंसी कपिल देव की अध्यक्षता वाली कमेटी

विवादों में फंसी कपिल देव की अध्यक्षता वाली कमेटी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 49 दिन 21 घंटे पूर्व
31/07/2019
दिल्ली (महामीडिया) टीम इंडिया के नए कोच के चयन के लिए आवेदन करने की तारीख खत्म हो गई है और अब कपिल देव की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय समिति (कमेटी) शॉर्ट लिस्ट किए गए लोगों का इंटरव्यू लेगी। क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (CAC) में कपिल देव के अलावा पूर्व कोच अंशुमान गायकवाड़ और पूर्व महिला खिलाड़ी शांता रंगास्वामी भी शामिल हैं।
टीम का कोच चुनने की आगे की प्रक्रिया तो अब शुरू होगी, लेकिन उससे पहले ही इस कमेटी पर सवाल उठने लगे हैं। सबसे बड़ा सवाल तो यह उठ रहा है कि बीसीसीआई के नए संविधान के मुताबिक क्या समिति कोच चुन सकती है। चर्चा हो रही है कि कमेटी के सदस्यों पर हितों के टकराव का मामला तो नहीं बनता।
शॉर्ट लिस्ट किए गए लोगों के इंटरव्यू लेने से पहले बीसीसीआई में नियुक्त लोकपाल और एथिक्स ऑफिसर जस्टिस डीके जैन इस मामले में अंतिम निर्णय लेंगे। क्रिकइन्फो के अनुसार हितों के टकराव के मामले को सबसे पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासनिक समिति की सदस्य डायना इडुल्जी ने दिल्ली में  हुई सीएसी की बैठक में उठाया था। उसके बाद मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के आजीवन सदस्य संजीव गुप्ता ने भी सीओए को पत्र लिखकर उठाया।
कपिल देव भारतीय क्रिकेट एसोसिएशन की स्टीयरिंग कमेटी के भी सदस्य है। वहीं वह और अंशुमन गायकवाड़ टीवी पर विशेषज्ञ की भूमिका निभाते हैं। गायकवाड़ बीसीसीआई की मेंबर संबंधित कमेटी का हिस्सा हैं. वहीं रंगास्वामी भी आईसीए की निदेशक हैं।
और ख़बरें >

समाचार