महामीडिया न्यूज सर्विस
13 अगस्त को नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा के 88 सदस्य करेंगे सरेंडर

13 अगस्त को नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा के 88 सदस्य करेंगे सरेंडर

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 15 दिन 21 घंटे पूर्व
10/08/2019
अगरतला (महामीडिया) त्रिपुरा में 13 अगस्त को करीब 30 साल से सक्रिय उग्रवादी गुट नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा के 88 सदस्य सरेंडर करेंगे। इसके लिए आज एनएलएफटी, केंद्र और त्रिपुरा सरकार के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हुए। इसके बाद गुट के प्रतिनिधियों ने दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। सरेंडर करने वालों को गृह मंत्रालय की ओर से आत्मसमर्पण और पुनर्वास योजना का लाभ दिया जाएगा। त्रिपुरा राज्य सरकार आवास, भर्ती और शिक्षा जैसी सुविधाएं उपलब्‍ध कराने में मदद करेगी।
इस उग्रवादी संगठन ने 2005 से 2015 के बीच 10 साल में 317 हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया। इनमें 28 सुरक्षाबलों समेत 90 लोगों की मौत हुई। यह उग्रवादी संगठन 1989 से सक्रिय है। सरकार ने 1997 में इस संगठन पर गैरकानूनी गतिविधि अधिनियम के तहत प्रतिबंध लगाया था। एनएलएफटी के साथ 2015 में शांति वार्ता शुरू हुई। 2016 के बाद उसके उग्रवादियों ने किसी हिंसक कार्रवाई को अंजाम नहीं दिया।
और ख़बरें >

समाचार