महामीडिया न्यूज सर्विस
जीवाजी विश्वविद्यालय के 50 हजार से अधिक विद्यार्थियों का भविष्य अधर में

जीवाजी विश्वविद्यालय के 50 हजार से अधिक विद्यार्थियों का भविष्य अधर में

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 27 दिन 12 घंटे पूर्व
17/09/2019
ग्वालियर [ महामीडिया ] रिजल्ट बनाने वाली कंपनी माइक्रो प्रो ने 250 गलत चार्ट बना दिए और 50 हजार से ज्यादा मार्कशीटों में गलतियां कर दीं। इस कारण जीवाजी विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग ने चार्ट व मार्कशीटों को लौटा दिया है। इससे छात्रों को मार्कशीट के लिए फिर से इंतजार करना होगा। हालांकि पहले ही छात्र रिजल्ट के लिए चक्कर काट रहे थे।जेयू ने दिसंबर 2018 में स्नातक व स्नातकोत्तर के 1 लाख से ज्यादा छात्रों की परीक्षाएं कराई थीं। इन परीक्षाओं का रिजल्ट काफी दिनों बाद निकला। आंदोलन व धरने के बाद रिजल्ट घोषित हुआ। उसके बाद छात्रों तक मार्कशीटें पहुंचानी थीं। कॉलेज तक मार्कशीट नहीं पहुंचने से जेयू के चक्कर काटने लगे।हाल ही में माइक्रो प्रो कंपनी ने 50 हजार से ज्यादा मार्कशीटें बनाकर दीं और 250 चार्ट परीक्षा विभाग में भेजे थे, लेकिन चार्ट गलत बनाकर दिए। छात्रों के नंबर सही नहीं चढ़े हुए थे, जिसके चलते गलती सुधरना मुश्किल था। जो मार्कशीटें जेयू की को सौंपी थी, उनकी भी जांच की तो हर मार्कशीट में भी गलतियां निकली।इसके चलते जेयू ने चार्ट व मार्कशीटों को लौटा दिया। सोमवार को भी कुछ मार्कशीटों के बंडल विभाग के पास आए, उनमें भी गलतियां थी। यह ऐसी गलतियां थी, जिन्हें छात्र नहीं पकड़ता है तो आगे जाकर उसके लिए मुसीबत बन सकता है।

और ख़बरें >

समाचार