महामीडिया न्यूज सर्विस
अमेरिका में दहाड़े प्रधानमंत्री मोदी

अमेरिका में दहाड़े प्रधानमंत्री मोदी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 31 दिन 1 घंटे पूर्व
23/09/2019
ह्यूस्टन (महामीडिया) अमेरिका के ह्यूस्टन में 'हाउडी' मोदी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में हो रहे विकास कार्यों के साथ-साथ कश्मीर का भी जिक्र किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत ने एक नई चुनौती को भी 'फेयरवेल' दिया है, यह विषय है अनुच्छेद 370 को खत्म करना। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसपर निशाना भी साधा।
अपने भाषण में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि तेज विकास का प्रयास कर रहे किसी भी देश में, अपने नागरिकों के लिए वेलफेयर स्कीम्स आवश्यक होती है। जरूरतमंद नागरिकों के लिए वेलफेयर स्कीम चलाने के साथ-साथ नए भारत के निर्माण के लिए कुछ चीजों को फेयरवेल भी दिया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि देश के सामने 70 साल से एक और बड़ा चैलेंज था जिसे कुछ दिन पहले भारत ने फेयरवेल दे दिया है। आर्टिकल 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास से और समान अधिकारों से वंचित रखा था। इस स्थिति का लाभ आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रहीं थीं। अब भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वहीं अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं।
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत अपने यहां जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है, जिनसे खुद अपना देश नहीं संभल रहा। इन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीति का केंद्र बना दिया है। ये वो लोगो हैं जो अशांति चाहते हैं, आतंक के समर्थक हैं, आतंक को पालते-पोसते हैं। उनकी पहचान आप भी अच्छी तरह जानते हैं। अमेरिका में 9/11 हो या मुंबई में 26/11, उसके साजिशकर्ता कहां पाए जाते है?
अब समय आ गया है कि आतंकवाद के खिलाफ और आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए। मैं यहां पर जोर देकर कहना चाहूंगा कि इस लड़ाई में प्रेसिडेंट ट्रंप पूरी मजबूती के साथ आतंक के खिलाफ खड़े हुए हैं।
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत पहले के मुकाबले और तेज गति से आगे बढ़ना चाहता है। भारत कुछ लोगों की इस सोच को चुनौती दे रहा है, जिनकी सोच है कि कुछ बदल ही नहीं सकता। बीते पांच सालों में 130 करोड़ भारतीयों ने हर क्षेत्र में ऐसे नतीजे हासिल किए हैं जिनकी पहले कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था।
पीएम मोदी ने कहा कि सबसे बड़ा मंत्र है- सबका साथ-सबका विकास, भारत की सबसे बड़ी नीति है- जन भागीदारी, भारत का सबसे प्रचलित नारा है- संकल्प से सिद्धि और भारत का सबसे बड़ा संकल्प है- न्यू इंडिया। प्रधानमंत्री ने कहा, "अलग-अलग पंथ, संप्रदाय, सैकड़ों तरह का अलग-अलग क्षेत्रीय खान-पान, अलग-अलग वेशभूषा और अलग-अलग मौसम एवं ऋतु चक्र भारत को अद्भुत बनाते हैं।"

और ख़बरें >

समाचार