महामीडिया न्यूज सर्विस
भारत में उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रों की संख्या बड़ी

भारत में उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रों की संख्या बड़ी

admin | पोस्ट किया गया 28 दिन 13 घंटे पूर्व
25/09/2019
नई दिल्ली [ महामीडिया ] विदेशी छात्रों का भारतीय संस्थानों में पढ़ाए जा रहे इंजीनियरिग और मैनेजमेंट कोर्सों में ज्यादा रुझान दिखाई दिया है। साल 2018-19 में पढ़ाई के लिए 47 हजार से ज्यादा विदेशी छात्र भारत आए। इनमें से करीब 18 हजार छात्रों ने इंजीनियरिग और मैनेजमेंट विषयों में ही दाखिला लिया। विदेशी छात्रों की यह रुचि हाल ही में देश भर के उच्च शिक्षण संस्थानों को लेकर अलग-अलग मापदंडों पर कराए गए सर्वेक्षण में सामने आई है।साल 2018-19 के लिए 167 देशों के छात्र उच्च शिक्षा के लिए भारत आए। इनमें सबसे ज्यादा करीब 26 फीसद छात्र नेपाल से आए हैं। इसके अलावा अफगानिस्तान, बांग्लादेश, सूडान, भूटान, नाइजीरिया, अमेरिका, यमन, श्रीलंका व ईरान आदि देशों से आने वाले छात्रों की संख्या भी काफी ज्यादा रही। सर्वे के अनुसार, विदेशी छात्रों ने भारतीय संस्थानों में पढ़ाए जा रहे करीब 133 अलग-अलग विषयों में दाखिला लिया, लेकिन सबसे ज्यादा मांग इंजीनियरिग व मैनेजमेंट विषयों की रही।सबसे ज्यादा 8,861 विदेशी छात्रों ने बीटेक (बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी) में दाखिला लिया, जबकि 2,600 की रुचि बीई (बैचलर ऑफ इंजीनियरिग) में रही। मैनेजमेंट विषयों में करीब पांच हजार विदेशी छात्रों ने दाखिला लिया है। इनमें 3,354 ने बीबीए (बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन) और करीब 1,600 ने एमबीए (मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन) कोर्स में दाखिला लिया है। सर्वे रिपोर्ट के अनुसार, विदेशी छात्रों की रुचि शास्त्री और आचार्य जैसे पारंपरिक विषयों में भी रही। इन विषयों में करीब 140 छात्रों ने दाखिला लिया।भारत आने वाले विदेशी छात्रों को कर्नाटक के उच्च शिक्षण संस्थान सबसे ज्यादा पसंद आए। साल 2018-19 में दस हजार से ज्यादा विदेशी छात्रों ने कर्नाटक के संस्थानों में दाखिला लिया। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र रहा, जहां के संस्थानों में पांच हजार से ज्यादा विदेशी छात्रों ने प्रवेश लिया। पंजाब, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, हरियाणा, दिल्ली, गुजरात और तेलंगाना के संस्थानों में भी विदेशी छात्रों की रुचि रही।
और ख़बरें >

समाचार