महामीडिया न्यूज सर्विस
नवरात्र में नौ दिनों तक मंदिरों में लगेगा आस्था का मेला

नवरात्र में नौ दिनों तक मंदिरों में लगेगा आस्था का मेला

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 18 दिन 18 घंटे पूर्व
29/09/2019
मालवा-निमाड़ (महामीडिया) देवी आराधना का महापर्व शारदीय नवरात्र आज से शुरू हो गया है। घरों, पंडालों और मंदिरों में घट स्थापना हो रही है। नौ दिन दिन तक मंदिरों में भीड़ रहेगी। मंदिरों को विद्युत रोशनी से सजाया गया है।
उज्जैन : हरसिद्धि में जगमगाएंगी दीपमालिकाएं
देश के 52 शक्तिपीठों में से एक माता हरसिद्धि के दरबार में साधना व सिद्धि के लिए देशभर से भक्त उमड़ेंगे। यहां दीपमालिका प्रज्वलित की जाएगी। इस बार देश-विदेश के 80 से अधिक भक्तों ने दीपमालिका प्रज्वलित कराने के लिए बुकिंग कराई है। मंदिर में दो दीप स्तंभ हैं, प्रत्येक स्तंभ में 501 दीपक हैं।मंदिर को लेकर मान्यता है कि यहां माता सती के दाहिने हाथ की कोहनी गिरी थी। इसलिए इसे शक्तिपीठ माना जाता है।
नलखेड़ा (आगर-मालवा) के बगलामुखी मंदिर में भंडारा
मां बगलामुखी मंदिर में मां की पूजाअर्चना, श्रृंगार और महाआरती की जाएगी। मां पीतांबरा सेवा समिति नौ दिन तक भंडारे आयोजित करेगी। मंदिर में इंदौर-उज्जैन से आगर और इंदौर-कोटा मार्ग से होते हुए नलखेड़ा पहुंचा सकते हैं।
देवास : माता टेकरी को सजाया
माता टेकरी पर शनिवार रात ही लगभग सभी व्यवस्थाएं कर दी गईं। प्रशासन व पुलिस बल तैनात हो गया है। सुबह से ही छोटी माता व बड़ी माता के श्रृंगार के साथ मंदिर को फूलों व विद्युत साज-सज्जा के साथ सजाया जाएगा। 100 से अधिक स्थानों भंडारे होंगे।
बड़वानी : बड़ी बिजासन माता मंदिर
सेंधवा से 16 कि मी दूर मुंबई-आगरा मार्ग पर मप्र-महाराष्ट्र की सीमा पर स्थित करीब 150 वर्ष पुराने बड़ी बिजासन मंदिर में माता एक मूर्ति और दो पिंडी स्वरूप में विराजित हैं। तीन बार मंदिर का जीर्णोद्धार हो चुका है। 40 वर्षों से अखंड ज्योत प्रज्वलित है। नवरात्र के पहले दिन दुर्गा सप्तशती के पाठ शुरू होंगे। 6 अक्टूबर को पाठ समापन व यज्ञ पूर्णाहुति कर 7 अक्टूबर को भंडारा होगा।

और ख़बरें >

समाचार