महामीडिया न्यूज सर्विस
बिहार एवं उत्तरप्रदेश में बारिश से हालात बदतर, पानी में डूबा पटना

बिहार एवं उत्तरप्रदेश में बारिश से हालात बदतर, पानी में डूबा पटना

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 17 दिन 14 घंटे पूर्व
01/10/2019
नईदिल्ली [ महमीडिया ] पिछले पांच दिनों से यूपी और बिहार में हो रही भारी बारिश से बिहार तो जैसे कोईं प्राचिन शहर बन गया है जो प्रलय के पानी में डूब गया हो। वहीं यूपी में पिछले पांच दिनों में 111 लोगों की मौत हो गई है जिसके बाद यह आंकड़ा 170 तक पहुंच गया है। इस साल देश पर मानसून इतना मेहरबान हुआ है कि पिछले 25 सालों का रिकॉर्ड तोड़ डाला। इसने इतनी तबाही मचा दी है कि उससे निपटते लंबा समय लगेगा। बिहार की तस्वीरें देखें तो भयानक नजर आती है। लोगों के घरों में कमर तक पानी घुसा हुआ है और राहत और बचाव की लागातर कोशिशों के बीच पानी उतरने का इंतजार हो रहा है। चारों तरफ पानी है लेकिन पीने के पानी को लोग तरस रहे हैं वहीं रोजमर्रा की चीजें भी नहीं मिल रही।पटना समेत बिहार के अधिकांश हिस्सों में भले ही बारिश की रफ्तार कम हो गई हो लेकिन जो पानी भरा हुआ है उसकी वजह से लाखों लोग अब भी जलकैदी बने हुए हैं। बारिश से हर शख्त परेशान है। घरों में पानी भरने की वजह पटना में आफत की बारिश के चलते उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और लोकगायिका शारदा सिन्हा अपने घरों तक कैद रहे। सोमवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल  की टीम ने दोनों को पानी में डूबे उनके घरों में से उन्हें निकाला।बारिश की वजह से आई बाढ़ में पूरे बिहार में 16.56 लाख लोग घिरे हुए हैं। सबसे बुरी स्थिति पटना में है, जहां सोमवार को 11 हजार लोगों को जलकैद से मुक्त कराया गया। राज्य में वर्षा और जलजनित हादसों में अब तक 40 की जान गई है, जबकि रविवार से सोमवार तक 13 लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को बाढ़ की स्थिति को लेकर समीक्षा बैठक की और जलजमाव वाले क्षेत्रों से तेजी से पानी निकालने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया।

और ख़बरें >

समाचार