महामीडिया न्यूज सर्विस
नहाय-खाय के साथ शुरू होगा चार दिवसीय छठ महापर्व

नहाय-खाय के साथ शुरू होगा चार दिवसीय छठ महापर्व

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 22 दिन 3 घंटे पूर्व
29/10/2019
नई दिल्ली [महामीडिया] दीपावली के बाद नहाय-खाय के साथ 31 अक्टूबर से चार दिवसीय महापर्व छठ की शुरुआत हो जाएगी। 31 अक्टूबर से शुरू होने वाला यह महापर्व तीन नवंबर को सुबह का अर्घ्य देकर पूरा होगा। एक नवंबर को खरना का आयोजन होगा, वहीं 2 नवंबर को शाम का अर्घ्य दिया जाएगा और आखिरी दिन यानी 3 नवंबर को सुबह का अर्घ्य दिया जाएगा। बिहार और यूपी के साथ ही उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में यह त्योहार प्रमुखता से मनाया जाता है। इसके लिए विशेष तैयारियां की गई हैं। रेलवे ने स्पेशल ट्रेनें भी चलाई हैं। छठ महापर्व को लेकर दो तरह की मान्याता हैं। पहली के अनुसार, शास्त्रों में लिखा है कि, रावण का सर्वनाश करने के बाद भगवान राम ने कार्तिक शुक्ल षष्ठी को रामराज्य की स्थापना की थी। इस दिन प्रभु श्रीराम और माता सीता ने व्रत रखा था और सूर्य की आराधना की। सप्तमी को सूर्योदय के समय विशेष अनुष्ठान कर सूर्यदेव का आशीर्वाद प्राप्त किया था।एक अन्य मान्यता है कि छठ पर्व की शुरुआत महाभारत काल में हुई थी। सर्वप्रथम सूर्य पुत्र कर्ण ने सूर्य देव की उपासन शुरू की। कर्ण भगवान सूर्य का परम भक्त थे। वह रोज घंटों पानी में खड़े होकर सुबह-शाम सूर्यदेव को जल चढ़ाते थे। कहा जाता है कि सूर्य की कृपा से ही कर्ण महान योद्धा बने थे। यही कारण है कि आज भी छठ महापर्व के दौरान सूर्य को अर्घ्य दान दिया जाता है।

और ख़बरें >

समाचार