महामीडिया न्यूज सर्विस
प्राचार्यों को भावातीत ध्यान का ध्वजवाहक बनना है- ब्रह्मचारी गिरीश

प्राचार्यों को भावातीत ध्यान का ध्वजवाहक बनना है- ब्रह्मचारी गिरीश

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 4 दिन 20 घंटे पूर्व
07/11/2019
भोपाल (महामीडिया) महर्षि विद्या मन्दिर विद्यालय समूह के वार्षिक प्राचार्य सम्मेलन 4 दिवसीय आयोजन आज महर्षि सेन्टर फार एजुकेशनल एक्सीलेंस, लाम्बाखेड़ा भोपाल में हो रहा है। यह सम्मेलन कल से प्रारंभ हुआ है जिसका आज दूसरा दिन था। इस अवसर पर महर्षि विद्या मन्दिर विद्यालय समूह के अध्यक्ष ब्रह्मचारी गिरीश जी ने अपने संदेश में कहा कि "महर्षि विद्या मन्दिर विद्यालय समूह के प्रत्येक प्राचार्य को शैक्षणिक गुणवत्ता एवं उत्कृष्टता के साथ-साथ भावातीत ध्यान एवं सिद्धि कार्यक्रम का भी ध्वजवाहक बनना है। यह हमारे विद्यालय समूह की एक प्रमुख विशेषता है जो हमें दूसरों से अलग करती है। समाज में भावातीत ध्यान एवं सिद्धि कार्यक्रम को व्यापक स्वीकार्यता दिलाने में हमारे प्राचार्यों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसलिये इस महती जिम्मेदारी के निर्वहन में भी पीछे नहीं हटें। हमें हर सम्भव यह प्रयास करना है कि वैश्विक शांति में महर्षि समूह की उपादेयता रेखांकित की जाये। परम् पूज्य महर्षि महेश योगी जी के आदर्श, सिद्धांत एवं प्रेरणा हमें इस दिशा में कार्य करने की शक्ति प्रदान करते हैं। उनके द्वारा दी गई तकनीकी का इस्तेमाल कर हमें समस्त लक्ष्यों को हासिल करना है। इस सूत्र वाक्य को हम सदैव याद रखें की हमें निरंतर शैक्षणिक उत्कृष्टा एवं गुणवत्ता के लिये कार्य करना है।"
इस अवसर पर मंच पर महर्षि विद्या मन्दिर विद्यालय समूह के समस्त निदेशक, कार्यकारी निदेशक एवं संयुक्त निदेशक मौजूद थे। आज के सम्मेलन मंे 5 विविध तकनीकी सत्रों का संचालन किया गया। यह सम्मेनल 7 नवम्बर तक चलेगा। इस सम्मेलन में पूरे देश में स्थित 163 में से 50 से अधिक महर्षि विद्या मन्दिरों के प्राचार्य शामिल हुये हैं जो अपने-अपने विद्यालयों की प्रगति रिपोर्ट भी समस्त निदेशकों के समक्ष प्रस्तुत कर रहें हैं। 

और ख़बरें >

समाचार