महामीडिया न्यूज सर्विस
एक फोन कॉल ने कर दिया शिवसेना का प्लान फेल

एक फोन कॉल ने कर दिया शिवसेना का प्लान फेल

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 30 दिन 21 घंटे 50 सेकंड पूर्व
12/11/2019
नई दिल्ली (महामीडिया) महाराष्ट्र में एनसीपी को सरकार गठन के लिए न्योता मिलने के बाद वहां हालात और दिलचस्प हो गया है। सबकी नजरें कांग्रेस की ओर है कि वो क्या फैसला करती है। बदले हुए हालात में ये देखना भी होगा कि शिवसेना को एनसीपी समर्थन करती है या फिर शिवसेना के समर्थन से एनसीपी सरकार बनाने के लिए आगे बढ़ती है। इससे पहले खबर आई थी कि कांग्रेस शिवसेना को समर्थन देने के लिए मूड बना चुकी है लेकिन इसी बीच सोनिया गांधी ने एक फोन कॉल किया और सबकुछ बदल गया।
बता दें कि शिवसेना को राज्यपाल से सरकार बनाने का न्योता मिला था लेकिन तय वक्त पर शिवसेना जरूरी विधायकों की चिट्ठी लेकर राज्यपाल के सामने नहीं पहुंच सकी। लिहाजा शिवसेना को बैकफुट पर आना पड़ा वो भी तब जब शिवसेना की ओर से केंद्र में शामिल अरविंद सावंत ने इस्तीफा तक दे दिया। तो ऐसा क्या हुआ कि शिवसेना को जरूरी विधायकों का समर्थन की चिट्ठी नहीं मिल सकी?
सोमवार शाम सूरज ढलने तक शिवसेना को उम्मीद थी कि सरकार उसकी बन जाएगी और जरूरी आंकड़ों की चिट्टी उसे मिल जाएगी लेकिन इस बीच एक फोन कॉल ने शिवसेना के मंसूबे पर पानी फेर दिया। दिल्ली में कांग्रेस की करीब चार घंटे लंबी चली बैठक के बाद एक चिट्ठी सामने आई जिसमें साफ-साफ लिखा था कि कांग्रेस अध्यक्ष ने पूरे मामले पर शरद पवार से बात की है और आगे भी एनसीपी के साथ चर्चा करेगी।
और ख़बरें >

समाचार