महामीडिया न्यूज सर्विस
21 को शिवरात्रि: शिववालयों में रहेगी कड़ी सुरक्षा

21 को शिवरात्रि: शिववालयों में रहेगी कड़ी सुरक्षा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 816 दिन 3 घंटे पूर्व
20/07/2017
इस बार महाशिवरात्रि यानी त्रयोदशी का जल 21 जुलाई को चढ़ाया जाएगा। इसके लिए राज्य और जिला प्रशासन ने प्रमुख शिवालयों की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किया है। खबरों के अनुसार, त्रयोदशी का जल 21 जुलाई गुरुवार को सुबह छह बजे से और चतुर्दशी का जल शुक्रवार रात 10 बजे से शनिवार शाम तक चढ़ेगा। इस दौरान मंदिरों शिवालयों में कावड़ियों और शिवभक्तों की भारी भीड़ होने का अनुमान है।महाशिवरात्रि पर गाजियाबाद के दूधेश्वरनाथ मंदिर की सुरक्षा त्रिस्तरीय होगी। इसके लिए मंदिर परिसर को सेक्टर, सब सेक्टर और जोन में बांटा गया है। वहीं महाशिवरात्रि पर मंदिर परिसर में कमांडो की भी तैनाती होगी। इसके लिए गुरुवार से ही मंदिर परिसर के आसपास कमांडो की तैनाती हो जाएगी। इसके अलावा एलआईयू सहित खुफिया विभाग के अधिकारी भी तैनात किए गए हैं। हाजिरी का जल चढ़ाने के दौरान भी सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रहेगी। गुरुवार देर रात से अतिरिक्त पुलिसकर्मी को तैनात किया जाएगा। इसके अलावा मंदिर परिसर के अंदर पुलिस कट्रोल रूम का संचालन शुरू हो गया। किसी भी श्रद्धालु को अगर परेशानी हो ती है तो पुलिस कंट्रोल रूम जाकर मदद ले सकते हैं।
इसके अलावा पुलिस व प्रशासन के व्हॉट्सएप ग्रुप पर पल-पल की जानकारी अपडेट की जा रही है। डीएम व एसएसपी लगातार कावंड़ मार्ग का निरीक्षण कर रहे हैं। पीएसी की भी है तैनाती दूधेश्वरनाथ मंदिर की सुरक्षा के लिए पीएसी की भी तैनाती की गई है। जीटी रोड, जस्सीपुरा मोड़, गौशाला अंडरपास से लेकर मंदिर परिसर के बाहर व अंदर इनकी तैनाती की गई है। इसके अलावा सादी वर्दी में भी दो दर्जन से अधिक पुलिसकर्मी लगाए गए हैं। दूधेश्वर नाथ मंदिर के आसपास की सुरक्षा पुख्ता है। इसके लिए पुलिसकर्मी, कमांडो व पीएसी की तैनाती की गई है। इसके अलावा सीसीटीवी कैमरे व ड्रेान से भी निगरानी रखी जा रही है।
यातायात को व्यवस्थित करने के लिए डायवर्जन प्लान लागू है। एचएन सिंह, एसएसपी दूधेश्वर नाथ मंदिर में ?पंडा के वेश में कमान संभालेंगे जवान दूधेश्वर नाथ मंदिर की सुरक्षा चाक चौबंद कर दी गई है। मंदिर की सुरक्षा में पुलिस कर्मियों के साथ साथ पंडा के वेश में भी पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। कांवड़ियों के वेश में महिला-पुरुष के जवान कांवड़ियों के बीच में रहकर असामाजिक तत्वों पर नजर रखेंगे। दूधेश्वर नाथ मंदिर में अगले दो दिनों में करीब पांच लाख श्रद्धालुओं के जलाभिषेक करने की उम्मीद है। इसीलिए मंदिर की सुरक्षा में किसी तरह की चूक भारी पड़ सकती है।
एसपी सिटी आकाश तोमर ने बताया कि मंदिर से लेकर जस्सीपुरा मोड़, दिल्ली गेट तक जलअभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की लाइन लगती है। इसीलिए मंदिर के भीतर, परिसर और दिल्ली गेट तक पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। कांवड़ियों के वेश में दिन और रात पुलिसकर्मियों के साथ पंडा वेश में सुरक्षा जवान तैनात किए गए हैं। दिन में पंडा के वेश में महिला पुलिसकर्मी भी रहेंगी। दिन और रात में 10 पुलिसकर्मी पंडा के वेश में श्रद्धालुओं के बीच घूम-घूमकर असामाजिक तत्वों पर नजर रखेंगे। किसी आपात सूचना पर पंडा वेश में तैनात जवान तुरंत हरकत में आ जाएंगे।

और ख़बरें >

समाचार