महामीडिया न्यूज सर्विस
विदेश में पढ़ाई और घूमने समेत ये चीजें होंगी सस्ती

विदेश में पढ़ाई और घूमने समेत ये चीजें होंगी सस्ती

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 347 दिन 14 घंटे 37 सेकंड पूर्व
03/08/2017
नई दिल्ली [महामीडिया]: बुधवार के कारोबार में डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 2 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। इस दौरान रुपया 26 पैसे मजबूत होकर 63.७० के लेबल तक जा पहुंचा। इससे पहले यह लेवल 10 अगस्त 2015 को देखा था। रुपये में मजबूती से जहां आईटी और इंपोर्ट पर आधारित कंपनियों को फायदा होगा, वहीं विदेशों में घूमना, पढ़ाई करने समेत तमाम वो चीजें सस्ती होंगी जिनका भुगतान डॉलर के जरिए किया जाता है।
रुपए में मजबूती उन लोगों के लिए लिए भी खुशखबरी लेकर आई है जो विदेशों में घूमना ज्यदा पंसद करते हैं। अगर आप न्यूयॉर्क की हवाई सैर के लिए 3000 डॉलर की टिकट रहे हैं तो आपको भारतीय रुपए में करीब 1,94,700 रुपए खर्च करने पड़ते थे जो अब आपको 1,90,890 रुपए देने पडेंगे यानी आपको 3,810 रुपए की बचत होगी। वहीं बच्चों के पढ़ाई की बात की जाएं तो रुपए में मजबूती का असर इसपर भी साफ देखा जा सकेगा
रुपए में मजबूती विदेशी निवेशकों के द्वारा घरेलू इकोनॉमी में निवेश बढ़ाने की वजह से दखने को मिली है। इस साल अभी तक विदेशी निवेशक 874 करोड़ डॉलर इक्विटी मार्केट में और 1682 करोड़ डॉलर डेट मार्केट में निवेश कर चुके हैं। सरकार द्वारा चलाए जा रहे सुधार प्रक्रिया से भी विदेशी निवेशकों का भारत पर भरोसा बढ़ा है। सेक्टर्स में एफडीआई बढऩे से रुपए को मजबूती मिल रही है।
घरेलू करंसी में मजबूती से उतने ही डॉलर की खरीद के लिए कम रुपए देने पड़ेंगे। इससे सरकारी खजाने को फायदा मिलेगा। साथ ही मेटल, इंजीनियरिंग सेक्टर की कंपनियां जो कच्चा माल बाहर से मंगा रही हैं इंपोर्ट बिल में कमी आएगी।

और ख़बरें >

समाचार