महामीडिया न्यूज सर्विस
डोकलाम विवाद का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान

डोकलाम विवाद का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 781 दिन 5 घंटे पूर्व
30/08/2017
इलाहाबाद [महामीडिया]: दो महीने से भी ज्‍यादा समय से चल रहे डोकलाम विवाद का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान निकलने पर उत्‍तर प्रदेश के डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की. उन्‍होंने इसे पीएम मोदी की सफल कूटनीति करार देते हुए कहा कि यह पीएम की कूटनीतिक सफलता ही है कि चीन को अपने कदम वापस खींचने पड़े. वह यहां पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. डिप्‍टी सीएम ने कहा कि यह प्रधानमंत्री मोदी के 56 इंच के सीने का ही परिणाम है कि भारत ने चीन से बिना युद्ध लड़े युद्ध जीत लिया है और चीन को अपनी सेना डोकलाम से वापस हटानी पड़ी. इलाहाबाद में यमुना पार अरैल में स्थित महर्षि महेश योगी आश्रम में होम गार्ड्स द्वारा आयोजित नमामि गंगे जागृति यात्रा में आए मौर्य ने कहा कि आज गोली का जवाब गोला से देने की छूट हमारे वीर जवानों को किसी ने दी है, तो वह हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी है. उन्होंने कहा कि यह हमारे प्रधानमंत्री की सफल कूटनीति का ही परिणाम है कि चीन को अपने कदम वापस खींचने पड़े और हमने बिना युद्ध किये ही युद्ध जीत लिया है. यह हमारे पीएम की अभूतपूर्व सफलता है. नमामि गंगे परियोजना के संदर्भ में उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आज यह गंगा मैया की ही कृपा है कि गोमुख से लेकर गंगा सागर तक केवल कमल ही खिला हुआ है. उत्तराखंड में भाजपा है, उत्तर प्रदेश में भाजपा है, बिहार में भी अब भाजपा है और झारखंड में भाजपा है.
केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि आने वाले समय में बंगाल में भी कमल खिलेगा। कार्यक्रम में प्रदेश के होम गार्ड्स राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनिल राजभर ने मौर्य की ओर इशारा करते हुए कहा कि आज हमारे पुलिस विभाग को 80,000 जवानों की आवश्यकता है. मैं आपसे निवेदन करना चाहता हूं कि यूपी के किसी भी एक-दो जिले को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर हमारे विभाग (होम गार्ड्स) को दे दिया जाए. कम से कम यातायात प्रबंधन के लिए ही दे दिया जाए. उन्‍होंने यह भी कहा कि एक भी पुलिसकर्मी को न लगाया जाए और पूरे जिले के यातायात की व्यवस्था हमारे जवानों को दे दिया जाए तो हमारे जवानों की ड्यूटी की समस्या भी खत्म हो जाएगी और यातायात में लगे पुलिसकर्मी कानून व्यवस्था में पूरी तरह से योगदान कर सकेंगे. इस पर, मौर्य ने कहा हमारी सरकार होमगार्ड के जवानों को हर प्रकार से सक्षम बनाने पर विचार कर रही है. मैं आपको पूरी तरह से आश्वस्त करता हूं कि मैं इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गंभीरता से चर्चा करूंगा कि आने वाले समय में इस दिशा में क्या अच्छा से अच्छा किया जा सकता है. होमगार्ड्स की इस नमामि गंगे जागृति यात्रा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 9 अगस्त को लखनऊ में झंडी दिखाकर रवाना किया था और मंगलवार को इसका पड़ाव इलाहाबाद था.

और ख़बरें >

समाचार